अब अलग से होगा IPS एंट्रेंस एक्ज़ाम

भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारियों का चयन अब अलग एंट्रेंस एक्ज़ाम के जरिए करने की तैयारी है. सिविल सेवा परीक्षा से अलग व्यवस्था करने के इस मुद्दे पर केन्द्र सरकार ने राज्यों से राय मांगी है. केन्द्र का पत्र राजस्थान सरकार को भी मिला है. हालांकि अभी तक सरकार ने राय प्रकट नहीं की है.
इस सम्बंध में केन्द्र की ओर से गठित एक कमेटी की अगले सप्ताह तक जयपुर आने की सम्भावना है. फिलहाल आईपीएस की भर्ती सिविल सेवा परीक्षा के जरिए होती है. इसी परीक्षा से भारतीय प्रशासनिक सेवा, पुलिस सेवा, विदेश सेवा अधिकारी, राजस्व सेवा, वन सेवा, पोस्टल सेवा आदि के अधिकारियों का चयन होता है.
अधिकारियों से इंटरव्यू में भले ही उनकी रूचि पूछी जाती हो, लेकिन काडर आवंटन परीक्षा व इंटरव्यू में प्राप्त अंकों की मेरिट के आधार पर होता है. जिसमें उस अभ्यर्थी का चयन भी आईपीएस के लिए हो जाता है, जिसकी रूचि इस क्षेत्र की बिलकुल नहीं होती है. इसका प्रभाव ड्यूटी के दौरान उनकी परफॉर्मेस पर भी पड़ता है. इस कारण केन्द्र ने आईपीएस के लिए अलग परीक्षा करने का विचार किया है.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *