लकड़ी का इस्तेमाल बैटरी बनाने में

वैज्ञानिक इस निष्कर्ष पर पहुंचे हैं कि टिन की कोटिंग वाले लकड़ी के बेहद पतले टुकड़े से एक बेहद छोटी, लंबे वक्त तक चलने वाली और एनवॉयरामेंट फ्रेंडली बैटरी बनाई जा सकती है।
कागज के टुकड़े से भी हजारों गुना पतली इस बैटरी पर यूनिवर्सिटी ऑफ मेरीलैंड के वैज्ञानिकों ने बहुत सारे प्रयोग किए हैं। वैज्ञानिकों ने पाया कि इसे 400 बार रिचार्ज करके इस्तेमाल किया जा सकता है। खोज से जुड़े एक साइंटिस्ट का कहना है कि लकड़ी के रेशे तरल इलेक्ट्रोलाइट्स को स्टोर करने के लिए बेहद अच्छा माध्यम होते हैं। इसकी वजह से ये बैटरी का बेस बनाने के लिए काफी उपयुक्त हैं। फिलहाल बैटरी का बेस तैयार में कड़े मटीरियल का इस्तेमाल होता है। ये बेस बैटरी के इस्तेमाल के दौरान कमजोर पड़ते जाते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *