ओपन टेक्स्ट परीक्षा इसी सत्र से

सीबीएसई चालू शैक्षणिक सत्र के अगले साल फरवरी-मार्च में आयोजित होने वाली कक्षा नौंवी और ग्यारहवीं की फाइनल परीक्षा में खुला पाठ आधारित मूल्यांकन (Open Text-Based Assessment (OBTA)) शुरू करने जा रहा है.
दिनांक 31 मई 2013 के सीबीएसई के एक सर्कुलर से पता चला है कि एक पेपर में लगभग 20 प्रतिशत प्रश्न, मामलों के अध्ययन (केस स्टडीज) या पाठ सामग्री (टेक्स्ट मटेरियल) से रहेंगे जो परीक्षा से चार माह पहले ही छात्रों को उपलब्ध करा दिए जाएँगे.
सीबीएसई के अनुसार, खुला पाठ आधारित मूल्यांकन की अवधारणा है, छात्रों में विश्लेषणात्मक और सैद्धांतिक कौशल को बढ़ावा देना तथा इस प्रकार याद करने की परंपरा से दूर होना.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *