इंदौर में होंगी सात क्राइम ब्रांच

इंदौर जिले में जल्द ही क्राइम इन्वेस्टिगेशन के लिए अलग-अलग सेल काम करने लगेंगी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करने के लिए प्रदेश में सबसे पहले इसकी शुरुआत इंदौर से की जा रही है। इसके तहत थानों की पुलिस को पूरी तरह लॉ एंड ऑर्डर के लिए समर्पित किया जाएगा और हत्या, डकैती-लूट, चोरी, साइबर क्राइम और आर्थिक अपराधों की जांच क्राइम ब्रांच करेगी। हर सब-डिवीजन पर अलग-अलग ब्रांच रहेगी और इंचार्ज एएसपी होंगे। इंदौर में जिला क्राइम ब्रांच के अलावा छह एएसपी की छह क्राइम ब्रांच होंगी। इनमें सबसे सशक्त जिला क्राइम ब्रांच रहेगी।
सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिए थे कि पुलिस की इन्वेस्टिगेशन सेल और लॉ एंड ऑर्डर सेल अलग होना चाहिए। कुछ साल पहले यह प्रयोग इंदौर और भोपाल में तीन-तीन थानों में शुरू किया गया लेकिन बल की कमी के कारण सफलता नहीं मिली। अब इस मंशा को पूरा करने के लिए नया प्रोजेक्ट तैयार किया गया है। इंदौर शहर में दो एसपी के अधीन दो-दो एएसपी के अलावा एएसपी देहात व एएसपी मुख्यालय को मिलाकर कुल छह एएसपी हैं। इनमें से प्रत्येक के अधीन एक-एक क्राइम इन्वेस्टिगेशन सेल काम करेगी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *