मेरी आवाज ही मेरी पहचान है-रेडियो जॉकी

कहा जाता है कि यदि नॉलेज कम हो लेकिन बोलने की कला हो, तो लोग आपको ज्ञानवान समझने लगते हैं, किंतु यदि आपको बोलने की कला नहीं आती, फिर चाहे आप कितने ही ज्ञानवान हो, आप एक सामान्य व्यक्ति की तरह ही समझे जाएंगे।
दुनिया में सिर्फ उन्हीं व्यक्तियों ने समाज में अपनी पहचान बनाई है, जिन्हें बोलने एवं लिखने में महारत हासिल है। अलग-अलग पर्सनालिटी जैसे साधु-संत, नेता, स्पीकर, एक्टर सभी की पहचान सिर्फ उनकी बोलने की कला है। यहां तक कि जिसे बहुत अच्छा बोलना आता है, समाज में भी उसी का दबदबा रहता है।
आज के दौर में आवाज का भी व्यवसायीकरण हो चुका है, अत: यदि आप अच्छा बोलना जानते हैं तो आप एक अच्छे एंकर, रेडियो जॉकी, एक्टर बन सकते हैं। शिक्षा के इस नए दौर में भी रेडियो जॉकी एक भविष्य का उभरती कोर्स है, जिसे कम समय में ही कम्पलीट कर एक मजबूत प्रोफेशन कॅरियर की शुरुआत करते हैं।
ऐसा ही एक कोर्स इंदौर के एक प्रतिष्ठित कॉलेज आईपीएस एकेडमी में संचालित किया जा रहा है। चार महीने का ये कोर्स एप्सा स्टुडियो में एक्सपर्ट द्वारा कराया जाता है। ट्रेनिंग के दौरान ही आर्जिंग के साथ-साथ कापी राइटिंग एवं वर्क स्टेशन ऑपरेशन भी सिखाया जाता है। कोर्स समाप्ति के बाद आप अपना कॅरियर रेडियो जॉकी के अलावा स्वतंत्र रूप में भी शुरू कर सकते हैं। जैसे स्टेज एंकरिंग डीजिंग, वाईस ओवर, डॉक्युमेंट्री वाईस, जिंगल वाईस इत्यादि।
द्वारा : रिया/करिश्मा

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *