सार्थक सांस्कृतिक कला केंद्र

श्री सतीश मुंगरे जी के निर्देशन में कार्यरत है सार्थक सांस्कृतिक कला केंद्र जिसकी स्थापना 1 जनवरी 1996 को राजेंद्र नगर में हुई| स्टेज मेकअप और डिजाइनिंग का काम श्री प्रकाश पुराणिक द्वारा संचालित किया जाता है| इसके अलावा श्री तुषार मुंगरे जी ने बताया की सार्थक सांस्कृतिक कला केंद्र से गत 10 वर्षों सौ से भी अधिक कलाकार जुड़े हुए हैं और प्राय पांच सौ से भी अधिक कलाकार इसके संपर्क में बने रहते हैं|
नया सवेरा नमक नाटक को अर्जेंटीना में बेस्ट शोर्ट डोकुमेन्ट्री का इनाम मिला और श्री तुषार मुंगरे जी बताते हैं कि हर तरह के नाटकों का संचालन यहां वर्ष भर होता ही रहता है| मराठी संस्कृति से प्रेरित होने के कारण गणेश उत्सवों में शो का आयोजन होता है और हर वर्ष सानंद नाट्य प्रतिस्पर्धा का आयोजन भी सार्थक सांस्कृतिक कला केंद्र द्वारा ही कराया जाता है| हर वर्ष दिल्ली और नागपुर में नेशनल लेवल तक जाने वाला यह कला केंद्र तीन भागो में बंटा है प्रोफेशनल ग्रुप, थिएटर ग्रुप और अमेच्योर ग्रुप जिसमें कार्य के अनुसार प्रमाण पत्र भी दिए जाते हैं| हिंदी भाषी छात्र भी संपर्क करने हेतु पता-198, धन्वन्तरी नगर, राजेंद्र नगर और मोबाइल न. 9926497958 पर संपर्क करें|
पल्लवी रिस्वुड, सुषमा जोशी, निलिया होलकर, प्रमोद पिस्वुड एवं ध्वनि संचालक तुषार मुंगरे, मधुसुदन जठार और सतीश मुंगरे जैसे कलाकार सार्थक मंच से कुछ जाने पहचाने नाम हैं| इंदौर शहर में ऐसे ही सिर्फ जूनून से आठ और कला केंद्र हैं जो मराठी समाज की ओर से कला को बढ़ाते रहने की एक सराहनीय पहल है जोकि हैं
1. श्री राम जोग संचालित नाट्य भारती कला केंद्र
2. श्री श्रीकांत भोगले संचालित वैल एंड वैल एजुकेशन ग्रुप
3. श्री राजन देशमुख संचालित अविरत
4. श्री सुनील मतकर संचालित अहिल्या नाट्य मंडल
5. श्री सतीश श्रोत्री संचालित पथिक
6. श्री मिलिंद देशपांडे एवं श्री अनिल चाफेकर संचालित अष्ट रंग
7. श्री मुकुंद तेलंग संचालित प्रयास नाट्य मंडल
8. श्री नाना दुराफे संचालित नाट्य विलास

द्वारा- वरुण

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.