स्कूल शिक्षा मंत्री एवं राज्य मंत्री के बीच कार्य विभाजन

राज्य शासन ने स्कूल शिक्षा मंत्री श्री पारस चन्द्र जैन एवं स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी के मध्य कार्य का विभाजन किया है। अब चार विभाग की नस्ती स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री के माध्यम से स्कूल शिक्षा मंत्री को प्रस्तुत की जाएगी। इनमें मध्यप्रदेश मदरसा बोर्ड से संबंधित सभी कार्य, स्कूलों के अवकाश केलेण्डर से संबंधित सभी कार्य, नीति निर्धारण से संबंधित सभी कार्य और नियम निर्देशों से छूट से संबंधित सभी कार्य शामिल हैं।

जिन विषयों की नस्तियाँ निराकरण के लिए स्कूल राज्य मंत्री को प्रस्तुत की जाएगी उनमें लोक शिक्षण संचालनालय के अधीन पदस्थ जिला स्तरीय अराजपत्रित संवर्ग (यू.डी.टी., सहायक शिक्षक, लिपिक एवं भृत्यों) की पद-स्थापना, अराजपत्रित कर्मचारियों की पद-स्थापना, पदोन्नति, स्थानांतरण, सेवावृद्धि पुनर्नियुक्ति, प्रतिनियुक्ति आदि स्थापना संबंधी समस्त कार्य, अराजपत्रित कर्मचारियों की गोपनीय चरित्रावली से संबंधित अभ्यावेदनों के निराकरण से संबंधित कार्य, अराजपत्रित कर्मचारियों के विरूद्ध प्राप्त शिकायतों का निराकरण, अराजपत्रित कर्मचारियों के विभागीय जाँच, अनुशासनात्मक कार्यवाही एवं उनसे संबंधित अपीलों कानिराकरण, अराजपत्रित सेवानिवृत्त कर्मचारियों के स्वत्वों के भुगतान, पेंशन प्रकरण के निराकरण एवं सेवानिवृत्ति के उपरांत अधिक सेवा का नियमन, पूर्व में की गई सेवा की गणना आदि से संबंधित कार्य, अराजपत्रित कर्मचारियों की जन्म तिथियों में संशोधन से संबंधित कार्य, अराजपत्रित कर्मचारियों के स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के उपरांत के सभी प्रकरण, अराजपत्रित कर्मचारियों के सभी प्रकार के अवकाश स्वीकृति, वेतन निर्धारण एवं पुनरीक्षण संबंधी समस्त कार्य, शिक्षाकर्मी संविदा शाला शिक्षकों से संबंधी समस्त कार्य, राज्य विभाजन से संबंधित कार्य के अंतर्गत अराजपत्रित कर्मचारियों का आवंटन, स्थानांतरण, एनसीसी से संबंधित समस्त कार्य, भारत स्काउट गाईड से संबंधित समस्त मामले, विभाग के जिला स्तरीय संवर्गों से संबंधित न्यायालयीन प्रकरणों से संबंधित समस्त कार्य, विधानसभा अतारांकित प्रश्न आदि शामिल है।

इन विषयों को छोड़कर शेष समस्त विषयों की नस्तियाँ स्कूल शिक्षा मंत्री को प्रस्तुत की जाएँगी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *