जस्टिस अग्रवाल, रमण बने सुप्रीम कोर्ट के जज

जस्टिस राजेश कुमार अग्रवाल और जस्टिस नुथालापति वेंकट रमण को सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश पद की यहां शपथ दिलाई गई।उनके शपथ ग्रहण के साथ ही कई सालों बाद सर्वोच्च न्यायालय में 31 न्यायाधीशों की संख्या पूरी हो जाएगी। न्यायमूर्ति अग्रवाल (61) इससे पहले मद्रास उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रह चुके हैं। वह अक्टूबर 2013 में मुख्य न्यायाधीश बने थे। न्यायमूर्ति अग्रवाल ने 1967 में वकालत शुरू की थी और फरवरी 1999 में न्यायाधीश बने थे।
न्यायमूर्ति रमण (56) दो सितंबर 2013 से दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश थे। वह 10 मार्च, 2013 से 20 मई 2013 तक आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय के भी कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रह चुके हैं। न्यायमूर्ति रमण ने आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में वकालत किया है और वह 27 जून 2000 को इस न्यायालय के न्यायाधीश बने थे।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *