ग्रीन टी बढ़ाए सक्रियता और याद्दाश्त

द अकेडमिक जरनल साइकोफारमेकोलाजी ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की है, जिसमें यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल आफ बासेल के प्रो. क्रिस्टोफर बेगलिंग तथा सायकैट्रिक यूनिवर्सिटी क्लीनिक्स प्रो. स्टीफन बोर्गवार्ट के इस शोध दल ने पाया कि ग्रीन टी का सत्व मस्तिष्क की प्रभावी सक्रियता को बढाता है और यह सक्रियता दिमाग के ज्ञान संबंधी तंत्र को मजबूत करती है।
अपने शोध के लिए वैज्ञानिकों ने स्वस्थ पुरूषों को चुना। इन लोगों को एक पेचीदा काम दिया गया , लेकिन काम शरू करने से पूर्व इन्हें एक ऎसा शीतल पेय दिया गया जिसमें कई ग्राम ग्रीन टी का सत्व था। इसके बाद वैज्ञानिकों ने इनका एम आर आई (मेगनेटिकरेजोनेंस इमेजिंग) कर मस्तिष्क की सक्रियता पर ग्रीन टी के सत्व के असर की जांच की।
एमआरआई की रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने पाया कि मस्तिष्क के पीछे तथा आगे के कार्टेक्स के बीच बेहतर संबंध स्थापित हुआ है। जो यह सिद्ध करता है कि ग्रीन टी मस्तिष्क की सक्रियता बनाए रखती है और याद्ाश्त भी बढाती है। इसके पहले तक के शोध विभिन्न बीमारियों पर ग्रीन टी के असर तक ही सीमित थे, लेकिन पहली बार मस्तिष्क पर ग्रीन टी के फायदे का पता लगने से कई मनोवैज्ञानिक समस्याओं के इलाज में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *