नया सॉफ्टवेयर जांचेगा इनकम टैक्स

जांच प्रक्रिया को चुस्त-दुरुस्त और पारदर्शी बनाने के लिए लागू किए जा रहे इस सॉफ्टवेयर सिस्टम में आयकर अधिकारियों को अपने हर कदम की जानकारी सिस्टम में दर्ज करनी होगी.आयकर विभाग से जुड़े सूत्रों का कहना है कि इस नए सॉफ्टवेयर को बनाने का जिम्मा आईटी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) को दिया गया है. इससे पहले टीसीएस आयकर विभाग को टीडीएस प्रक्रिया में भी अपनी सेवाएं दे चुकी है.
आयकर चोरी से जुड़े मामलों की जांच के लिए तैयार किए जा रहा नया सॉफ्टवेयर संदिग्ध मामलों की पहचान कर अलर्ट जारी करेगा. इन्हीं के आधार पर विभाग की ओर से जरूरी कार्रवाई शुरू की जाएगी. अफसरों को हरेक मामले में की गई कार्रवाई की जानकारी सॉफ्टवेयर में लॉग-इन कर दर्ज करनी होगी. आयकर विभाग का जोर सूचना तकनीकी की मदद से पुख्ता जानकारी हासिल करने पर है. बैंकों से हुए बड़े लेन-देन का डेटा खंगालकर विभाग को कई अहम सुराग हाथ लगते हैं. नया सॉफ्टवेयर इस तरह की सूचनाओं को भी बेहतर तरीके से जुटाएगा.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *