विकास वो हैं जिसमें सबका भला हो

हमारा समाज दो भागों में बंटा हुआ है। एक इंटर जनरेशन है और एक फ्यूचर जनरेशन। यह कहना था महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष डॉ. सविता ईनामदार का। अन्तराष्ट्र्रीय परिवार दिवस के अवसर पर हुई प्रीतमलाल दुआ सभागृह में हुए कार्यक्रम में समाज निर्माण में परिवार की भूमिका विषय पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा परिवार में सामूहिकता की भावना नहीं बढ़ रही है। हमें प्रयास करना चाहिए कि घरेलू अत्याचार रोंके, परिवार न टूटे, सकारात्मक प्रयास करे की परिवार के साथ समाज जुड़ा रहे। डॉ. ईनामदार ने वहाँ मौजूद आडियंस से कहा कि आगे आने वाली पीढी को सही संस्कार व सही दिशा देना जरुरी है। उन्होंने कहा कि पैरेंट्स-टीचर असोसिएशन बहुत सही कार्य कर रहा है यह बच्चों में नकारात्मकता के भाव को दूर करने में मददगार है, क्योंकि आजकल यह जरुरी है कि परिवार एक-जूट होकर रहे एवं आने वाली पीढ़ी को अच्छे संस्कार दिए जाए। इस सभा में मौजूद लोगों ने अंत में अपने विचार एवं अपने प्रश्न भी डॉ. ईनामदार से चर्चा किए।
-दिव्या पस्टारिया

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *