सूक्ष्‍म पवनचक्‍की करेगी सेलफ़ोन चार्ज

अमेरिका में रह रही भारतीय मूल की वैज्ञानिक डॉ. स्मिता राव का आविष्‍कार अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में मील का पत्‍थर है. डॉ. ऱाव ने अपने ताइवानी शिक्षक प्रोफेसर जे. सी. चिआओ के सहयोग से ऐसी पवनचक्‍की तैयार की है जो चावल के एक दाने के दसवें हिस्‍से के बराबर छोटी है – सूक्ष्‍म पवनचक्‍की (Micro Windmill). माइक्रो इलेक्‍ट्रो मेकैनिकल सिस्‍टम्स (MEMS) बनानेवाली ताइवान की कंपनी विनमेम्‍स (WinMEMS Technologies Co.) को यह माइक्रो विंडमिल टेक्‍नोलॉजी इतनी पसंद आयी कि उसने शुरुआत से ही इसके व्‍यावसायिक उपयोग का करार कर रखा है. कंपनी अपनी वेबसाइट पर इसे प्रदर्शित भी कर रही है.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *