किंग्स इलेवन पंजाब पहली बार इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में

टीम इंडिया से बाहर चले रहे वीरेंद्र सहवाग के तूफानी शतक की बदौलत किंग्स इलेवन पंजाब ने आईपीएल के दूसरे क्वालिफायर में चेन्नई सुपरकिंग्स को 24 रन से हराकर पहली बार इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में प्रवेश कर लिया। खिताबी मुकाबले में उसका सामना कोलकाता नाइटराइडर्स से होगा। विस्फोटक पारी खेलने वाले वीरेंद्र सहवाग को मैन ऑफ द मैच चुना गया।
पंजाब के 227 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई की टीम सुरेश रैना की 25 गेंद में 12 चौकों और छह छक्कों की मदद से खेली गई 87 रन की पारी के बावजूद सात विकेट पर 202 रन ही बना सकी। रैना के अलावा कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (31 गेंद में नाबाद 42) ही टिककर खेल पाए।
वर्ष 2008 में सेमीफाइनल में पहुंचने वाले पंजाब का यह आईपीएल इतिहास में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है, जबकि इसके साथ ही उसने चेन्नई को छठी बार फाइनल में प्रवेश करने से महरूम कर दिया। मौजूदा टूर्नामेंट में चेन्नई के खिलाफ पंजाब की तीन मैचों में यह तीसरी जीत है। कटक और अबु धाबी में भी पंजाब ने जीत दर्ज की थी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *