कहां है आपकी गाड़ी बताएगा व्हीकल ट्रेकिंग सिस्टम

इंदौर. अब आपको अपना वाहन चोरी होने से घबराने की जरूरत नहीं है। अपनी गाड़ी में व्हीकल ट्रेकिंग सिस्टम (वीटीएस) लगाकर आप न केवल उसकी पल-पल की लोकेशन पता कर सकते हैं बल्कि सिर्फ एक बटन दबाने पर वाहन का इंजन बंद कर सकते हैं। यही नहीं वाहन की लोकेशन भी पता चल जाएगी और चोर आसानी से पकड़ा जाएगा। शहर के पार्किंग, मॉल, धर्मस्थल ही नहीं घरों के बाहर से रोजाना तकरीबन पांच-छह वाहन चोरी हो रहे हैं। इनमें अधिकांश टू-व्हीलर हैं। ऐसे में ये सिस्टम उपयोगी साबित हो सकता है। ग्लोबल सॉल्यूशन वीटीएस के डीलर हैं। संचालक ने बताया सिस्टम तीन ‘जी’ पर काम करता है। ये हैं- जीपीएस (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम), जीपीआरएस (जनरल पैकेट रेडियो सर्विस) और जीएसएम (ग्लोबल सिस्टम फॉर मोबाइल)। वीटीएस से वाहन की पल-पल की लोकेशन लैपटॉप, कम्प्यूटर या मोबाइल पर देख सकते हैं। टू-व्हीलर में 6 हजार से 10 हजार रुपए, जबकि 7 से 25 हजार रुपए में फोर व्हीलर व भारी वाहनों में लगाया जा सकता है। हालांकि इसे चलाने के लिए 150-300 रुपए प्रतिमाह किराया भी सर्विस प्रोवाइडर को देना होगा।
इंटरनेट पर वीटीएस की आईडी में एंटी थेफ्ट बटन दबाकर गाड़ी को कहीं भी रोका जा सकता है। गाड़ी दोबारा स्टार्ट भी नहीं होगी। वाहन में सायरन बजने लगेगा। आप ही पुलिस को बता देंगे कि आपकी गाड़ी किस रोड पर और कहां है? इससे चोर पकड़ा जाएगा। वाहन में वीटीएस इंस्टॉल करने के बाद सर्विस प्रोवाइडर द्वारा वेब का आईडी व पासवर्ड दिया जाता है। इसे कम्प्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल पर एक्सेस करते ही नक्शा (मैप) खुल जाता है। इसमें गाड़ी की लोकेशन, स्पीड, फ्यूल व अन्य जानकारी देखी जा सकती हैं। भारी वाहन संचालकों द्वारा इसका इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.