अब्दुल कलाम ने शेयर की अपनी स्टूडेंट लाइफ

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Ex. President Shri Abdul kalam

इंदौर. मैं जब आप सबको देखता हूं तो खुद से यह पूछता हूं कि जब मुझे 1957 में डिग्री मिली थी तब वो मेरी जिंदगी का सबसे खास दिन था। आज का दिन आपके लिए भी उतना ही खास है। इस दिन दो मैसेज जरूरी हैं। पहला, मैं सोसायटी के लिए क्या कर सकता हूं।

दूसरा आने वाली प्रॉब्लम्स को डिफीट कर सक्सेसफुल बनें। मैं जहां भी जाता हूं आईआईटी ब्रांड डिस्कशन का कॉमन फैक्टर होता है। यह अपनी क्रिएटिविटी, एक्सीलेंस और इंटीग्रिटी के लिए जाना जाता है। इसे बरकरार रखें। आज, आप सभी इसी ब्रांड से ग्रेजुएट हुए हैं।

डायरेक्टर्स रिपोर्ट का प्रेजेंटेशन यूनिक है जिसमें फेकल्टी व अंडरग्रेजुएट्स की रिसर्च पर ज्यादा फोकस किया गया है। पहली बार मैने किसी आईआईटी एन्वायर्नमेंट में रिसर्च का एलोबरेटेड फॉर्म देखा जिसमें हैवी सिलेबस है। मैं स्टूडेंट्स को कॉन्ग्रेचुलेट करता हूं। यह दिन आपकी स्मृति में हमेशा जिंदा रहेगा।
अपनी लाइफ को शेप दें। आज एक ऐसा पेज तैयार करें जिसमें लिखें कि आप किस काम के लिए याद किए जाएं। हो सकता है ह्यूमन हिस्ट्री की बुक का यह इम्पॉर्टेंट पेज हो और आप इस पेज को क्रिएट करने के लिए नेशन की हिस्ट्री में जाने जाएंगे। यह इनोवेशन, सोसायटल चेंज, पॉवर्टी को हटाने वाला, फाइटिंग इनजस्टिस का या फिर नेटवर्किंग रिवर्स के लिए प्लानिंग और एक्जीक्यूटिंग मिशन का हो सकता है।

यह आपकी रिस्पॉन्सबिलिटी है कि लाइफ में वैल्यू और सेंस ऑफ पर्पज के लिए इस डिग्री को अर्न करें और जिएं। मुझे अच्छा लगेगा अगर आप अपने थॉट्स को मेरे मेल आईडी apj@abdulkalam.com पर शेयर करेंगे। मैं आपको शुभकामनाएं देता हूं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...