बीएड की दूसरी काउंसलिंग में ज्यादातर कॉलेजों को सौ फीसदी सीटें अलॉट

इंदौर. बीएड कॉलेजों में एडमिशन के लिए काउंसलिंग का दूसरा चरण पूरा हो गया है। बुधवार को कॉलेजों को सीटें अलॉट कर दी गई। अब छात्रों को 18 से 21 जून तक दस्तावेज सत्यापित करवाकर फीस जमा करना होगी। जो छात्र रह जाएंगे, उन्हें सीटें खाली रहने की स्थिति में सीएलसी(कॉलेज लेवल काउंसलिंग)के जरिये ही एडमिशन मिलने की संभावना रहेगी। इस बार सीटों से तीन गुना छात्र प्रवेश परीक्षा में पास हुए थे। इसलिए दूसरे चरण में ही ज्यादातर कॉलेजों को सौ फीसदी सीटें अलॉट हो गई हैं। दस्तावेज सत्यापन और फीस का डिमांड ड्राफ्ट जमा करने के लिए होलकर साइंस कॉलेज, जीएसीसी, जीडीसी और न्यू जीडीसी सहित अन्य कॉलेजों को सेंटर बनाया गया है। 18 से 21 जून तक छात्र कॉलेज में टीसी, माइग्रेशन और फीस जमा करने की प्रक्रिया पूरी करेंगे। 23 जून को विभाग फिर खाली रह गई सीटों की सूची जारी करेगा। 25 जून तक कॉलेज लेवल काउंसलिंग होगी। इसके बाद 26 से 28जून तक छात्र कॉलेज लेवल काउंसलिंग के तहत एडमिशन लेने वाले छात्र फीस जमा करेंगे।
आवेदक ज्यादा होने के कारण जल्दी भरेंगी सीटें- इस बार बीएड की सीटें दूसरी काउंसलिंग में ही भर जाएंगी। ज्यादातर कॉलेजों को लगभग सौ फीसदी सीटों का अलॉटमेंट हो गया है। अगर इसके बाद भी कोई छात्र एडमिशन नहीं ले पाता है और कॉलेज की सीट खाली रह जाती है तो वह सीएलसी के जरिये उसे भरेगा।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.