यंगस्टर्स अपना वेबसाइट्स डेवलप कर रहे

इंटरनेट के माध्य से सोश्यल मीडिया पर ्पडेट रहने के साथ-साथ शहर के यंग माइट्स कुछ क्रिएटिव कर रहे हैं। यंगस्टर्स वेबसाइट डेवलपमेंट में इंट्रेस्ट ले रहे हैं क्योकि उइससे उन्हें हर दिन कुछ नया और युनिक करने का मौका मिल रहा है। कुछ यंगस्टर्स अपनी स्किल्स को ग्रूम करके वेबसाइट डेवलपमेंट फील्ड में काम कर रहे हैं। जाहिर है अब यंगस्टर्स वेबसाइट बनाने में अपना टैलेंट दिखा रहे हैं।
ेवेबसाइटस डेवलपर इशान व्यास बताते हैं कि जब वे 6ठी क्लास में थे तब बुक्स पढ़ कर वेबसाइट बनाने की कोशिश की थी जो सफल रही। उसके बाद एक डीजे ने अपनी वेबसाइट बनाने के लिए सफर दिया। डीजे की वेबसाइट बनाकर दी ओर सभी को पसं आई। इसलिए वेबसाइट डेवलपमेंट में काम शुरु किया। इशान वेबसाइट डेवलपमेंट कंपनी भी रन करते हैं। उन्होंने बताया कि वे एक टीम वर्क में काम करते हैं अभी तक 150 से ज्यादा वेबसाइट्स बना चुके हैं।
इंदौर पर आधारित वेबसाइट- इंदौर की लोकल हैंपनिंग को लोगों तक पहुँचाने के लिए विकास यादव ने वेबसाइट बनाई है। विकास बताते हैं कि वे हमेशा अपडेटेड रहते हैं। एक दिन आइडिया आया कि क्यों ना खुद की वेबसाइट बनाई जाए जिस पर हर अपडेट को वो दूसरों तक पहुँचा सकें। इस वेबाइट में ंिदौर से जुड़ी सभी जानकारी अवेलेबल है। इसमें शहर में हुए और होने वाले कल्चरल और स्पिरिचुअल इवेंट्स की जानकारी रहती है।
वृशाली टिकलकर बताती है कि एमबीए करते समय ही डिजाइन किया था कि इंटरप्रेन्योर बनना है। हॉबी थी आईटी में वर्क करने कि इसलिए वेबसाइट डेवलपमेंट का वर्क शुरु किया। इंटरनेट अच्छा माध्यम है अपनी बात दूसरों तक पहुँचाने का। इसी का एक रूप है वेबसाइट। इससे अपने प्रोडक्ट और सर्विसेस की इन्फॉमेशन को बेहतर तरीके से शोकेस किया जा सकता है। इसमें फोकस किया और सक्सेस मिली। इसके साथ एप्प डेवलपमेंट में भी वर्क कर रहे हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.