दही हांडी में नाबालिगों के भाग लेने पर लगी रोक, बॉम्बे हाईकोर्ट ने दिया निर्देश

बॉम्बे हाईकोर्ट ने दही हांडी के कार्यक्रमों में नाबालिगों के शामिल होने पर सोमवार को रोक लगा दी। इसमें भाग लेने के लिए कम से कम उम्र 18 साल तय की है। हाईकोर्ट ने इसके साथ ही दही हांडी की ऊंचाई 20 फीट से ज्यादा नहीं रखने को कहा है। कंक्रीट सड़कों पर दही हांडी के आयोजन पर प्रतिबंध लगाते हुए खुले मैदान में इसका आयोजन करने का आदेश दिया है। नीचे गद्दे बिछाने को कहा है, ताकि गिरने पर चोट न लगे। दही हांडी कार्यक्रमों में होने वालों हादसों को देखते हुए हाईकोर्ट ने नए नियम बनाए हैं। जस्टिस वीएम कानाडे और पीडी कोड़े की बेंच ने मंगलवार को सर्कुलर जारी करने को कहा है। बेंच ने कई जनहित याचिकाओं पर सुनवाई के बाद ये निर्देश दिए। इस बार 18 अगस्त को जन्माष्टमी है। जन्माष्टमी के अगले दिन मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में दही हांडी के कार्यक्रम होते हैं। सामाजिक कार्यकर्ता स्वाति पाटिल ने इन कार्यक्रमों के सिलसिले में जनहित याचिका दायर की है। इसमें बताया है कि पिछले साल ऐसे कार्यक्रमों में दो लोगों की मौत हो गई थी। कई घायल हो गए थे। उन्होंने ऐसे हादसों को रोकने के लिए बेंच से जरूरी कदम उठाने की अपील की थी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.