लड़कियों के हौसले और हिम्मत की कहानियां…खुद की रुकवा दी थी शादी

इंदौर. वे अभावों में पली-बढ़ी। कुछ करने की ठानी और भर ली हौसले की उड़ान। किसी ने गैस रिसाव के वक्त हिम्मत दिखाकर बड़े हादसे को टाला तो किसी ने पढ़ने के लिए खुद का बाल विवाह रुकवाने की पहल की। विपरीत हालात में हिम्मत दिखाने वाली ऐसी ही लड़कियों को बुधवार को महिला एवं बाल विकास विभाग ने स्वागत लक्ष्मी योजना के तहत सम्मानित किया। पेश है ऐसी लड़कियों के साहस की कहानियां – कक्षा 10 वीं में पढ़ने वाली 15 साल की मुस्कान भार्गव। परिवार ने शादी तय कर दी। लड़के वाले शादी जल्द करने के लिए दबाव बनाने लगे। सहेलियों ने बताया तो मुस्कान ने साहस दिखाया और माता-पिता को बगैर बताए महिला एवं बाल विकास विभाग को फोन कर खुद का बाल विवाह रुकवाने की गुहार लगाई। टीम मौके पर पहुंची और शादी रुक गई। माता-पिता भी मेरी जल्दी शादी नहीं करना चाहते थे, लेकिन ससुराल वालों की जिद थी। मैं पढ़ाई करना चाहती हूं। इसके लिए वे सहयोग भी कर रहे हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.