कॉन्फ्रेंस के लिए पहुंचे 375 डेलिगेट्स, विदेशियों का स्वागत

भोपाल. सुबह 8 बजे से ढोल-नगाड़ों के साथ डेलिगेट्स का पारंपरिक रूप से स्वागत शुरू किया गया। डेलिगेट्स ने अरबी में ‘हबीबी’ (माय लव) और जापानी में ‘योकोसो’ कहकर वॉलेंटियर्स के ‘नमस्ते’ का खुले दिल से और पूरे उत्साह के साथ जवाब दिया। मौका था द संस्कार वैली स्कूल में रविवार से शुरू हुए ‘द राउंड स्क्वायर इंटरनेशनल कान्फ्रेंस-2014’ का। इस कॉन्फ्रेंस में भाग लेने के लिए 5 कॉन्टिनेंट्स के 22 देशों से 51 स्कूलों के 375 डेलिगेट्स पहुंचे हैं। कॉन्फ्रेंस के पहले दिन डेलिगेट्स ने संस्कार हाट में भारतीय संस्कृति से जुड़ी चीजें खरीदीं। हाट से गरबा ड्रेस खरीदने वाली एंजिला ने कहा कि ये ड्रेसेस बहुत कलरफुल हैं। अभिव्यक्ति गरबा महोत्सव में वे यही ड्रेस पहनेंगी। एंजिला इंग्लैंड से आई हैं। कॉन्फ्रेंस में शाम को आइस ब्रेकिंग सेशन के दौरान ग्रुप्स को ‘ऑल अबोर्ड’ गेम खिलाया गया। विदेशी मेहमानों का भारतीय संस्कृति से परिचय कराने के लिए ‘वेलकम टू इंडिया’ जैसे कल्चरल प्रोग्राम हुए। जहां माइम के जरिए इस बार की थीम ‘वी मे नॉट हैव इट ऑल टुगेदर, बट टुगेदर वी हैव इट ऑल’ प्रेजेंट की गई, वहीं भारतीय लोकनृत्यों की भी शानदार प्रस्तुति हुई।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.