अबकी बार करार नहीं, आमदनी और रोजगार बढ़ाने पर फोकस

इंदौर. 8 से 10 अक्टूबर तक होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर समिट की तैयारियों की समीक्षा करने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान इंदौर आए। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया की तर्ज पर मेक इन एमपी का नारा दिया और कहा- हमें भारत के अंदर मप्र का निर्माण करना है। यह समिट इसी दिशा में एक शुरुआत है। हम निवेशकों से करार करने पर जोर नहीं दे रहे। निवेशक स्वयं लगातार आएंगे, प्रदेश को कृषि से उद्योग की ओर ले जाना है ताकि रोजगार के अवसर और आमदनी बढ़े। सुपर कॉरिडोर पर हो ब्रांडिंग, कचरा व पशु न दिखें : मुख्यमंत्री ने पौने तीन बजे पुराना एयरपोर्ट भवन देखा। यहां प्रधानमंत्री से कुछ लोगों के मिलने की व्यवस्था की जाएगी। इसके बाद सुपर कॉरिडोर पहुंचे और शुरुआती बिंदुओं पर होर्डिंग्स, पोस्टर लगाने, कॉरिडोर के रेलवे ओवरब्रिज पर ब्रांडिंग करने के निर्देश दिए। साथ ही कचरा व आवारा पशु न दिखे ये निर्देश भी दिए। इसके बाद उन्होंने ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर की व्यवस्थाएं देखी। एसपी मुख्यालय ने कलेक्टर को पत्र लिख मांग की है कि समिट के मद्देनजर शहर में कई महत्वपूर्ण व्यक्ति आएंगे। इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से धारा 144 लगाई जाए। प्रशासन मंगलवार को आदेश जारी कर सकता है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.