विरासत को देखकर खुशी नहीं छुपा पाए डेलिगेट्स

द संस्कार वैली स्कूल में चल रही ‘द राउंड स्क्वॉयर इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस-2014’ के तीसरे दिन सभी डेलिगेट्स अलग-अलग ग्रुप में एडवेंचर-डे मनाने के लिए निकले। सुबह 10 बजे शुरू हुई स्टूडेंट्स की इस यात्रा में उन्हें भोपाल समेत प्रदेश के अन्य एडवेंचर्स स्पॉट पर ले जाया जाएगा। इस सिलसिले में डेलिगेट्स का एक ग्रुप भीम बैठका पहुंचा। यहां पर सभी ने जमकर मस्ती की और खूब फोटोज क्लिक करवाई। रॉक शेल्टर्स देखकर डेलिगेट्स बेहद खुश हुए। कुछ डेलिगेट्स ने कलर पेंसिल और ब्रश से रॉक शेल्टर्स की पेंटिंग भी बनाई। डेलिगेट्स ने यहां लगभग 2 घंटे गुजारे और अपने कैमरे में भीम बैठका की सैकड़ों यादें समेट कर ले गए। भीम बैठका के बाद 78 डेलिगेट्स का यह ग्रुप भोजपुर के लिए रवाना हो गया। डेलिगेट्स अलग-अलग ग्रुप में रायसेन का किला, भोजपुर, भीम बैठका, केरवा डेम, इस्लाम नगर, मानव संग्रहालय, जनजातीय संग्रहालय स्टूडेंट्स विजिट करेंगे। वहीं, शाम को स्टूडेंट्स अभिव्यक्ति गरबा महोत्सव में हिस्सा लेंगे। ‘द राउंड स्क्वॉयर कॉन्फ्रेंस-2014’ में दुनिया के 5 महाद्वीपों के स्कूलों के डेलिगेट्स शामिल है। राउंड स्क्वॉयर पर्सनालिटी डेवलपमेंट और स्किल डेवलपमेंट के साथ एकेडमिक एक्सीलेंस के लिए भी काम करता है। यह यूके की रजिस्टर्ड चैरिटी है। दुनियाभर में 100 से ज्यादा स्कूल इसके मेंबर हैं और देशभर के लगभग 51 स्कूल के 375 डेलिगेट्स कॉन्फ्रेंस में शामिल होने के लिए भोपाल पहुंचे हैं। इस बार कांफ्रेंस की थीम ‘शांति और सौहार्द्र से जिंदगी जीना सीखें’ रखी गई है। इसकी थीम लाइन ‘वी मे नॉट हैव इट ऑल टुगेदर… बट टुगेदर वी हैव इट ऑल’ है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.