कल चंद्रग्रहण, उज्जैन में नहीं दिखेगा

शरण पूर्णिमा पर बुधवार को पूर्ण चंद्रग्रहण लगेगा, जो देश के पूर्वी हिस्सों सहित मप्र के पांच शहरों में दिखाई देगा लेकिन उज्जैन में नहीं दिखेगा। शहर में चंद्रग्रहण नहीं दिखने से यह मान्य नहीं होगा। इसलिए ग्रहण काल में लोग घरों और मंदिरों में पूजा-पाठ नित्यकर्म जारी रखें ग्रहण का सूतक भी नहीं मानें। वर्ष 2014 का अंतिम चंद्रग्रहण शहर में नहीं दिखने से मान्य नहीं। ज्योतिषाचार्य पं. आनंदशंकर व्यास ने बताया जिन शहरों में चंद्रग्रहण दिखाई देगा, वहीं यह मान्य है। जहां नहीं दिखेगा वहां ग्रहण का सूतक नहीं लगता। ज्योतिषाचार्य पं. श्यामनारायण व्यास के मुताबिक दोपहर 2.44 पर चंद्रग्रहण लगेगा। दोपहर 4.25 पर मध्यकाल एवं 6.05 पर ग्रहण का मोक्ष होगा। वर्ष 2014 का यह अंतिम चंद्रग्रहण है। पूर्वी राज्यों सहित मप्र के भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, सागर और शाजापुर में सूर्यास्त से पहले ग्रहण होने के कारण यह दिखाई देगा। इंदौर-उज्जैन, देवास में शाम 6 से 6.07 बजे तक सूर्यास्त होगा। लेकिन ग्रहण का मोक्ष इसके पहले हो जाने से यह दिखाई नहीं देगा। जहां ग्रहण दिखेगा, वहां लोग जाप आदि करें। मोक्ष में स्नान, शुद्धिकरण कर दान-पुण्य करें।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.