चला मोदी का जादू, उद्योगपति हुए निवेश को राजी

इंदौर। शहर के ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में चल रही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के दूसरे दिन का आकर्षण जहां निश्चित रुप से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रहे, वहीं दूसरी ओर देश के बड़े उद्योग घरानों ने भी प्रदेश में निवेश की घोषणा कर सीएम शिवराज सिंह चौहान को निराश नहीं किया। गुरुवार को प्रधानमंत्री के भाषण के बाद के सत्र में अंबानी, अडाणी, गोदरेज, एल एंड टी जैसे बडे़ उद्योग समूहों ने प्रदेश में निवेश करने और ताजा निवेश में इजाफा करने की घोषणा की। प्रधानमंत्री मोदी के शिवराज सिंह सरकार की तारीफ करने और उद्योगपतियों को प्रदेश में निवेश करने का सुनहरा अवसर भुनाने की सलाह का खासा असर घोषणाओं में नजर आया। रिलायंस समूह के मुकेश अंबानी ने जहां प्रदेश में अगले डेढ़ वर्ष में 20 हजार करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की, वहीं उनके छोटे भाई अनिल अंबानी ने रिलायंस एडीए समूह के मप्र में वर्तमान 30 हजार करोड़ के निवेश को बढ़ाकर 60 हजार करोड़ करने का वादा किया। मुकेश अंबानी ने 2015 तक प्रदेश में डिजिटल इंटरनेट, उर्जा और रिटेल आदि क्षेत्रों में 20 हजार करोड़ रुपए के निवेश की बात की। उन्होंने प्रदेश में आर्गेनिक फार्मिंग में भी रुचि दिखाई है। अनिल अंबानी लगातार चौथी बार इन्वेस्टर्स मीट में शामिल हुए हैं। उन्होंने कहा कि रिलायंस एडीए समूह कोल, पावर, सीमेंट और टेलीकॉम क्षेत्र में 2020 तक 30 हजार करोड़ रुपए का और निवेश करेगा। वहीं टाटा समूह के चेयरमेन सायरस मिस्त्री ने कहा कि टाटा कंसलटेंसी सर्विस इंदौर में 10 हजार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने देवास में टाटा इंटरनेशनल के विस्तार, विदिशा में फूड पैकेजिंग, देवास में स्किल ट्रेनिंग सेंटर स्थापित करने, जबलपुर तथा उज्जैन में प्रस्तावित बीआरटीएस में सहयोग करने की बात भी कही। लार्सन एंड ट्रूबो एल एन टी समूह के चेयरमेन ए एम नायर ने प्रदेश में कौशल विकास केंद्र सहित रक्षा उत्पादों में निवेश की मंशा जताई है। अडाणी समूह के गौतम अडाणी ने प्रदेश में अगले पांच वर्षों में 20 हजार करोड़ रुपए के निवेश की बात की है। एस आर समूह के चेयरमेन शशि रुइया ने उर्जा, स्टील, बीपीओ तथा कोल बैग में चार हजार करोड़ रुपए के निवेश की बात कही। वेल्स पाइन समूह की सिंदूर मित्तल ने नव-करणीय ऊर्जा के क्षेत्र में आगामी दिनों में प्रदेश में पांच हजार करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की। पेंटालून समूह के किशोर बियाणी ने प्रदेश में फूड पार्क स्थापित कर 10 हजार युवाओं को रोजगार देने का वादा किया। गोदरेज समूह के चेयरमेन ने प्रदेश से अपने 27 वर्षों से जारी औद्योगिक रिश्ते को याद करते हुए प्रदेश में उद्योग जगत के कार्य सरलता और सुगमता से पूरे करने के लिए प्रदेश सरकार की सराहना की। उन्होंने निवेश के किसी आंकड़े को जारी न करते हुए प्रदेश में और निवेश की इच्छा जताई है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.