टूर पर बनाएं प्रोजेक्ट्स, मिलेंगे मार्क्स

स्कूलों के एजुकेशनल टूर शुरू हो गए हैं। इस बार टूर के लिए स्टूडेंट्स को प्रोजेक्ट्स मिलेंगे ताकि उनकी नॉलेज को परखा जा सके। स्टूडेंट्स को इसके लिए मॉर्क्स भी दिए जाएंगे। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) स्कूलों ने समय के साथ टूर ट्रेंड में बदलाव किया है। अब स्कूल एक दिन का नहीं बल्कि तीन से पांच दिनों के टूर प्लान कर रहे हैं। स्कूलों का उद्देश्य टूर को महज एंटरटेनिंग बनाना नहीं, बल्कि स्टूडेंट्स के नॉलेज लेवल को भी बढ़ाना है। इसके लिए स्कूलों ने टूर प्लान को एक दिन और बढ़ाया है। इस टूर में स्टूडेंट्स को हेरिटेज-टूरिस्ट प्लेसेस का भ्रमण कराया जाएगा। इसके बाद उन्हें प्रोजेक्ट वर्क दिए जाएंगे। इन प्रोजेक्ट्स के आधार पर स्टूडेंट्स को मॉर्क्स भी मिलेंगे। भोपाल के अधिकांश स्कूल फेस्टिव सीजन की छुटि्टयों को देखते हुए यह टूर दिसंबर की जगह अक्टूबर में ही स्टूडेंट्स को एजुकेशनल टूर पर लेकर जाएंगे। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट cbse.nic.in पर लॉगऑन कर सकते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.