डांस में शो किया टैलेंट

इंदौर. एक तरफ वेस्टर्न डांसेस के परफेक्ट स्टेप्स तो दूसरी तरफ क्लासिकल डांस की आकर्षक हस्तमुद्राएं और लोक नृत्यों की लयात्मकता। यह ट्रेडिशन और मॉडर्निटी का ऐसा फेस्ट है जिसमें यूथफुलनेस के साथ क्रिएटिविटी और टैलेंट के कलर्स दिखाई दिए। मंगलवार को शुरू हुए डिस्ट्रिक्ट लेवल के यूथ फेस्ट में यूनिवर्सिटी ऑडिटोरियम में कॉम्पीटिशंस हुईं। मोहे रंग दे पर फोक डांस- सोलो डांस में 5 पार्टिसिपेंट्स ने कथक पेश किया। फोक डांस में 8 टीमों ने राजस्थानी, गुजराती और झाबुआ के डांस किए तो बुंदेली नृत्य हंसी-ठिठौली के साथ ऑन द स्पॉट पेंटिंग कॉम्पीटिशन में वुमन इम्पावरमेंट पर 8 पार्टिसिपेंट्स ने पेंटिंग्स की। श्रृंगार को प्रमुखता देकर कलरफुल रंगोलियां बनाईं। वेस्टर्न ग्रुप डांस में तीन टीमों ने मेरी क्रिसमस, एवरी डे इन माय ड्रीम्स और ज़िंगल बेल पर परफॉर्म किया। वेस्टर्न सोलो सिंगिंग कॉम्पीटिशंस ने पांच पार्टिसिपेंट्स ने सॉन्ग्स पेश किए। अपने गोल के लिए डेडिकेटेड रहें- इस मौके पर वाइस चांसलर डीपी सिंह ने कहा कि स्टूडेंट्स अपने गोल के लिए हमेशा समर्पित रहें। अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा नरेंद्र धाकड़ ने कहा कि नोबल पुरस्कार देवेंद्र सत्यार्थी तथा मलाला हमारे रोल मॉडल होने चाहिए।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.