यहां माता को सजाया जाता है हीरे-मोती से, चढ़ती हैं नोटों की गढ्ढियां

रतलाम. माणकचौक स्थित महालक्ष्मी मंदिर में मंगलवार को धनतेरस से दीपोत्सव की शुरुआत होगी। महालक्ष्मी मंदिर को हीरे-मोती, जवाहरात और नोटों से सजाया गया है। पुजारी संजय के अनुसार सजावट दीपावली तक रहेगी। सजाए गए आभूषणों की कीमत करोड़ों में है। आज धनतेरस है। यानी खरीदी का खास दिन। इस दिन को खास बनाने के लिए लोगों ने पसंदीदा आयटम की बुकिंग पहले ही करा दी है। किसी ने स्कूटर तो किसी ने ज्वैलरी बुक कराई है। एलईडी, फ्रीज व वाॅशिंग मशीन की भी एडवांस बुकिंग है। सराफा, बर्तन व इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की दुकानें ग्राहकों के स्वागत के लिए सजी हैं। खरीदारी के अबूझ व महामुहूर्त होने से करोड़ों के कारोबार की उम्मीद है। व्यापारियों के मुताबिक धनतेरस और मंगल पुष्य नक्षत्र से दोगुने कारोबार की उम्मीद है। 100 से ज्यादा बुकिंग है। टू व्हीलर में अभी तक 700 से ज्यादा बुकिंग है। इसके अलावा भी बिक्री होगी। इससे आंकड़ा बढ़ सकता है। धनतेरस पर सोना-चांदी खरीदना शुभ होता है। लोगों ने इसकी बुकिंग करा रखी है। आमदिनों के मुकाबले दोगुने से ज्यादा कारोबार की उम्मीद है। यही स्थिति इलेक्ट्रॉनिक सामानों की है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.