इनके दिल में बसता है इंडिया, लाखों का छोड़ा था पैकेज, जानिए क्यों

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंदौर। भारत से लगभग 5 हजार किलोमीटर दूर तुर्की में रहने वाली एक कार्पोरेट लीडर का दिल भारत के लिए धड़कता है। भारत से उनका लगाव इतना गहरा है कि उन्हें लगता है कि पिछले जन्म में वो भारतीय ही थीं। भारत यात्रा करने के लिए उन्होंने तुर्की की एक कंपनी में ऊंचे ओहदे और लाखों के पैकेज को भी छोड़ दिया था। ये कहानी है तुर्की की सबसे बड़ी और दुनिया की सातवीं बड़ी ऑडियो हियरिंग एड बनाने वाली मल्टीनेशनल कंपनी में से एक अर्नेट की इंटरनेशनल बिजनेस हेड गुलरा बसरा की.

बाॅलीवुड के जरिए हुआ था भारत से परिचय
कुछ दिनों पहले स्वामी विवेकानंद कॅालेज की इंटरनेशनल एच आर समिट में भाग लेने इंदौर आई गुलरा ने भास्कर डॉट कॉम से खास बातचीत में बताया कि भारत से उनका पहला परिचय बालीवुड की फिल्मों के जरिए हुआ था। हिन्दी फिल्में देखकर उन्होंने भारत को समझा। फिर भारत के बारे में कुछ किताबें पढ़ी जिससे उन्हें ऐसा लगा कि भारत आए बिना उनकी जिंदगी अधूरी रह जायेगी। मगर वो सिर्फ टूरिस्ट की तरह यहां नहीं आना चाहती थी। इस बीच उन्होंने तुर्की की एक कंपनी में नौकरी के दौरान सोशल सर्विस का एक एड देखा जिसमें भारत में छः महीने तक स्कूली बच्चों को पढ़ाने के लिए कुछ लोगों की जरूरत थी। अपने सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने नौकरी छोड़ दी और भारत आ गई। सोशल सर्विस के दौरान गुलरा ने इंदौर के एक स्कूल में भी लगभग एक महीने तक बच्चों को पढ़ाया।

भारत के अनुभवों से मिला तुर्की की बड़ी एमएनसी में काम करने का मौका
गुलरा बताती हैं कि छः महीने का एसाइनमेंट पूरा होने के बाद उन्हें तुर्की जाना था। उनके पास कोई नौकरी नहीं थी। मगर उन्हीं दिनों अर्नेट कंपनी ने उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया और जब उन्हें पता चला कि मैं तुर्की के अलावा भारत में सोशल सर्विस के लिए छः महीने तक टीचिंग कर चुकी हूं तो मेरा चयन इंटरनेशनल बिजनेस डिवीजन में कर लिया गया।

पसंद है भारतीय पहनावा,परंपराएं और लोग
गुलरा बताती है कि उन्हें साड़ी पहनने का बेहद शौक है. वो बिंदी भी लगाती हैं और कई बार उन्होंने मेहंदी भी लगाई है। वो कहती है कि भारत के लोग बहुत दोस्ताना और सहयोगी होते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...