जर्मनी से आए स्टूडेंट्स, पतंग उड़ाकर खाए तिल्ली के लड्डू

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंदौर. जर्मनी के प्रोजीनियस शूले स्टूगर्ट के बच्चों के लिए एक नई दुनिया देखने का अनूठा अवसर है। इस स्कूल में पढ़ने वाले 10 बच्चे इंदौर आए हैं। सभी बच्चे अग्रवाल पब्लिक स्कूल के स्टूडेंट्स के साथ रह रहे हैं। ये सभी अपने पार्टनर के साथ घर-स्कूल और फील्ड विजिट पर साथ रहेंगे। इन बच्चों के साथ 2 टीचर्स भी स्कॉलर स्विच के साथ आए हैं। ग्रुप में बेनेसा हेस, अनिला सेलर, अंजा कोनेकी, अनाबेला लिजी वोल्फ, जूलिया बोनफिंगर, मारी ग्रेनियर, एलेक्जेंडर स्ट्रोबेल, फिलिप वेर्नर, मोसेलर केनू और टोबियास शेफेल तथा टीचर्स मथियास को और थॉमस लेडविग हैं। स्कूल के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर पीयूष अग्रवाल ने बताया यह एक ऐसी एक्टिविटी है जिसमें दोनों देशों के बच्चे नॉलेज, कल्चरल और रुटिन शेयर कर रहे हैं। यह बच्चों के लिए बेहतरीन एक्सपोजर और कॉन्फिडेंस बिल्डिंग एक्सरसाइज है। कुछ समय बाद अग्रवाल पब्लिक स्कूल के बच्चे भी अपने पार्टनर का साथ देने जर्मन जाएंगे। मकर संक्रांति पर बुधवार को शहर का आसमान पतंगों से छाया रहा। विभिन्न जगहों पर बच्चों और युवतियों ने भी पतंगबाजी के साथ सितोलिया, कंचे, गुल्ली-डंडा में हाथ आजमाए। स्कीम नं. 54 स्थित गुजराती समाज परिसर में स्टूडेंट्स ने संक्रांति पर्व मनाया। इस मौके पर उनके अभिभावक भी मौजूद थे वहीं ऑल्टियस कॉलेज में भी स्टूडेंट्स ने देसी खेलों का आनंद लिया।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...