युवाओं को क्या बदसूरत धरती सौंपेंगे?

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

एन्वायर्नमेंटल एक्टिविस्ट और राइटर चैतन्य कालेवार कनाडा से निजी यात्रा पर इंदौर आए हैं। सिटी भास्कर ने उनसे खास बातचीत की।

अनदेखी हो सकती है भयावह

इंजीनियरऔर राइटर चैतन्य कालेवार इंदौर में एसजीएसआईटीएस में सेवंटीज़ में लेक्चरर रहे हैं और 1970 में ही वे कनाड़ा में बस गए थे। वहीं पर वे कैनेडियन एन्वायर्नमेंटल नेटवर्क एनजीओ से जुड़े। इसी संस्था के रिप्रेजेंटेटिव के रूप में 1992 और 2012 में रिओ (ब्राज़ील) में हुई अर्थ समिट में हिस्सेदारी कर चुके हैं। वे कहते हैं कि हम क्लाइमेंट चेंज इशु पर कतई ध्यान नहीं देते। लेकिन यह हमारे अस्तित्व से जुड़ा मामला है, इसकी अनदेखी भयावह हो सकती है।

हजार हाथों से धरती को संभालें

वे कहते हैं कि क्लाइमेंट चेंज वजह से हम अब अतियों (एक्स्ट्रीम्स) के बीच रह रहे हैं। एक तरफ इतनी बर्फबारी होती है कि कई फीट ऊंची चट्टानें जम जाती हैं, कहीं तापमान इतना हो जाता है कि लोगों को जानें चली जाती हैं तो भयानक बाढ़ में कई हताहत होते हैं। हमारी जिम्मेदारी है कि नई जनरेशन को अवेयर करें और सिम्पल लाइफ जिएं। कार्बन और इलेक्ट्रिसिटी पर निर्भरता कम करते जाएं। हमें अपने इस सुंदर धरती को हजार हाथों से संभालने की जरूरत है।

विख्यात लोगों की प्रशंसा

उनकी इस किताब को नोबल प्राइज़ विनर हेलेन काल्डिकॉट ने महत्वपूर्ण माना है और जॉन एम्बुरी जैसे विश्वविख्यात कवि ने इसकी प्रशंसा की है। कनाडा के एक्स मेयर डेविड मिलर ने कहा कि यह किताब इंफर्मेटिव है और जरूरी तथ्यों के साथ हमें अवेयर करती है।

INTERACTION

िसटी रिपोर्टर इंदौर

हमारीजीवन शैली तमाम तरह की सुविधाओं पर आधारित हो गई है। इसके लिए हम अपनी धरती की खूबसूरती को नष्ट करने पर तुले हैं। हमें तो अपनी व्यक्तिगत जिम्मेदारी का अहसास है ही सामूहिक। यही कारण की क्लाइमेंट चेंज की वज़ह से हम कई गंभीर समस्याओं से जूझ रहे हैं। क्या हम अपने नई जनरेशन को बदसूरत धरती सौंप कर जाएंगे? यह कहना है कनाडा में बस चुके एन्वायर्नमेंटल एक्टिविस्ट और राइटर चैतन्य कालेवार का। हाल ही में उनकी किताब क्लाइमेट चेंज इन न्यूक्लियर एज : फुकुशिमा इज़ बीटिंग ड्रम्स प्रकाशित हुई है। वे निजी यात्रा पर अपने परिवार से मिलने इंदौर आए हैं। सिटी भास्कर ने उनसे खास बातचीत की।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...