मांग नहीं मानी तो 1 मार्च से काम ठप

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंदौर। देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी सेल्फ फायनेंस कर्मचारियों के पदों को भरने के मामले में प्रबंधन ने भले ही तैयारी शुरू कर दी हो लेकिन 25 और 26 फरवरी को बैठ होने वाली बैठकों में अगर कर्मचारियों की मांगे नहीं मानी गई तो 1 मार्च से वे काम ठप कर देंगे। इन बैठकों में अधिकारियों के बीच एक-एक बिंदु पर विस्तृत चर्चा होगी। प्रबंधन ने कहा है कि समय पर पूरी पारदर्शिता के साथ प्रक्रिया पूरी की जाएगी। जो कर्मचारी नियम के तहत पक्की नौकरी के दायरे में आएंगे, उनकी प्रक्रिया बिना किसी बाधा के आगे बढ़ाई जाएगी। बैठक में नियम-कायदे तय करने वाली कमेटी को भी बुलाया गया है। जबकि कर्मचारियों का कहना है कि पहले ही प्रक्रिया छह माह देरी से हो रही है। इसलिए अब किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं करेंगे। दरअसल 253 पदों पर पुराने ही कर्मचारियों की नियुक्ति होना है। कर्मचारी धीमी प्रक्रिया से नाराज थे। जबकि प्रबंधन का कहना था कि नेशनल यूथ फेस्टिवल की तैयारियों के चलते देरी हुई। अब इस मामले में बेहद जल्द प्रक्रिया तय की जाएगी। उप कुलसचिव डॉ. अनिल शर्मा का कहना है कि 26 को काफी कुछ स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। कर्मचारी हमारे ही हैं, इसलिए हम पूरी चिंता के साथ उनकी प्रक्रिया आगे बढ़ा रहे हैं। कि आने वाले दिनों में प्रक्रिया तेज होगी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...