MP BUDGET : बजट में इंदौर को कोई खास सौगात नहीं मिली

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंदौर. प्रदेश सरकार द्वारा पेश किए गए बजट में इंदौर को कोई खास सौगातें नहीं मिल पाईं। एमवाय में हार्ट के ऑपरेशन को लेकर की गई घोषणा भी पुरानी है। कांग्रेस ने बजट को महंगाई बढ़ाने वाला और भाजपा ने आम आदमी के हित और विकास का बजट बताया। औद्योगिक संगठनों ने बजट को सामान्य बताया।
कौशल विकास के नए अवसर
बजट प्रस्ताव से प्रदेश में युवकों को कौशल विकास के नए अवसर मिलेंगे, जिससे युवा वर्ग प्रदेश में उत्पादन क्रांति को नए शिखर पर पहुंचाएंगे। कौशल विकास के लिए 800 करोड़ रुपए का प्रावधान किया जाना इसका सबूत है।
– शंकर लालवानी, अध्यक्ष आईडीए
किसानों को फायदा
कृषि यंत्रों के प्रयोग को बढ़ावा देकर राज्य सरकार ने प्रति हेक्टेयर फॉर्म पावर को 0.80 किलोवाट से 1.36 किलोवाट पहुंचा दिया है। प्रदेश में 9 बीज गुण नियंत्रण प्रयोगशालाएं खोलने से किसानों को लाभ पहुंचेगा।
-रवि रावलिया, भाजपा जिला अध्यक्ष
जनता को राहत नहीं
बजट में आंकड़ों की बाजीगरी भी ढंग से नहीं की गई है। जनता को कोई बड़ी राहत मिलती नजर नहीं आ रही है। स्वास्थ्य, शिक्षा व रोजगार को लेकर भी कोई प्रावधान नहीं है।
– सज्जनसिंह वर्मा, पूर्व सांसद
विजन का अभाव
बजट में विजन का अभाव है। समाज के हर वर्ग को इस बजट ने निराश किया है।
नयापन नहीं है और प्रदेश का विकास अवरूद्ध होगा।
– प्रमोद टंडन, शहर कांग्रेस अध्यक्ष
घर का सपना तोड़ा
महंगाई घटाने और अच्छे दिन का वादा करने वाली भाजपा ने बजट में इस दिशा में ठोस प्रावधान नहीं किए हैं। रेत-गिट्टी को महंगा कर घर के सपने को तोड़ा है। सीएनजी, सरसों के तेल और मक्का खली को महंगा किया। पेट्रोल-डीजल पर वैट नहीं घटाया। व्यापमं घोटाले से जनता का ध्यान हटाने के लिए लोक लुभावन घोषणाएं की हैं।
– नरेंद्र सलूजा, प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता
उद्योगों के लिए दिशा नहीं
बजट दिशाहीन और विजन से दूर है। सरकार बजट में उद्योग जगत को दिशा दे सकती थी, लेकिन औद्योगिक विकास होगा ऐसा नहीं दिख रहा है। कृषि विकास के लिए बड़े प्रावधान हैं, किंतु उपज के प्रसंस्करण व मूल्य संवर्धन के लिए विजन नहीं है।
– डॉ. गौतम कोठारी,
अध्यक्ष पीथमपुर औद्योगिक संगठन
सकारात्मक है
बजट सकारात्मक है। कृषि को लाभ का व्यवसाय बनाने के लिए 18 हजार करोड़ रुपए के ऋण, 199 सिंचाई लघु प्रोजेक्ट को मंजूरी, जैविक खेती को प्रोत्साहन, कृषि यंत्रों को कर मुक्त करना आदि प्रावधान कर इस दिशा में सकारात्मक रुख स्पष्ट कर दिया।
– राजेश कुमार मंडवारिया, सीए
भाजपा नेता बोले- सभी के लिए हितकारी
बजट विकासोन्मुखी और आम आदमी को राहत पहुंचाने वाला है। नए कर नहीं लगाए गए हैं। बजट की राशि एक लाख हजार 199 करोड़ है, जो गत वर्ष की तुलना में ज्यादा है। लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए बजट में 1398 करोड़ रुपए का प्रावधान है।
– कैलाश विजयवर्गीय, मंत्री
विकास को बढ़ाएगा
बजट आम आदमी, किसान और गरीब तबके के लिए है। पांच लाख आवास बनाने से प्रदेश में आवास समस्या खत्म होगी। सड़क, सिंचाई, कृषि के अलावा मेट्रो, अर्बन ट्रांसपोर्ट फंड और नर्मदा-गंभीर लिंक जैसी योजनाएं इंदौर के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगी। कौशल विकास के लिए अलग से किया गया प्रावधान भी युवाओं के लिए हितकारी होगा।
– मालिनी गौड़, महापौर
स्पोर्ट्स व मनोरंजन कर मुक्त
– किशोर और युवा पीढ़ी को इल्म और हुनर में पारंगत बनाने की राज्य सरकार की चिंता इसी बात से मुखरित होती है कि स्किल डेवलपमेंट के लिए 800 करोड़ का प्रावधान किया गया है। स्पोर्ट्स व मनोरंजन को कर मुक्त कर दिया गया। उच्च शिक्षा के लिए 2 हजार करोड़ रुपए का
प्रावधान के साथ ही 25 नए आईटीआई खोलने का लक्ष्य है।
– रमेश मेंदोला, विधायक
शिक्षा-स्वास्थ्य पर खास ध्यान
बजट में युवाओं के रोजगार, महिला, किसान, छात्रों सहित सभी वर्गों का हित देखा गया है। शिक्षा, स्वास्थ्य और अधोसंरचना विकास पर बजट में खास जोर दिया गया है।
महेंद्र हार्डिया, विधायक
तीर्थ योजना के लिए विशेष
राज्य सरकार प्रदेश के और 80 हजार बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा कराने के लिए प्रावधान किया है। बजट में जन सामान्य के प्रति राज्य सरकार ने विशेष उत्कंठा व सदाशयता पूर्ण चिंता व्यक्त की है।
सुदर्शन गुप्ता, विधायक

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...