इस माह में 11 दिन अवकाश

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मार्च का महीना उत्सवों-आयोजनों से भरा हुआ है। होली, रंग पंचमी, चैत्र नवरात्र व राम नवमी समेत एक दर्जन से अधिक पर्व इस माह में हैं, जिन्हें लोग उत्साह के साथ मनाते हुए अवकाश का भी आनंद उठाएंगे। वजह यह है कि इस माह में दो एेच्छिक अवकाश समेत 11 छुट्टियां हैं। इनमें चार रविवार व चार शनिवार शामिल हैं। संयोगवश दो शनिवारों पर 21 मार्च को चैत्र नवरात्रि और 28 मार्च को राम नवमी है, जिन पर पहले ही अवकाश घोषित है। 5 मार्च को पूर्णिमा पर होलिका दहन होगा। पं. भंवरलाल शर्मा के अनुसार शाम 6.26 से 6.38 तक गोधूलि बेला में होलिका दहन का सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त है। जो लोग इस समय में दहन नहीं कर पाएं, वे रात 11 बजकर 2 मिनट से पहले अवश्य कर दें। पं. धर्मेंद्र शास्त्री के अनुसार 5 मार्च को गोधूलि बेला में होलिका दहन के समय सिंह लग्न और सिंह का चंद्रमा रहेगा। इस दिन पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र है। इसका स्वामी सूर्य है। इसके पूर्व वर्ष 2010 में ऐसा संयोग बना था। इसके अलावा छह मार्च को होली पर गुरु व शुक्र अपनी उच्च राशि क्रमश: कर्क व मीन में रहेंगे। सूर्य कुंभ राशि में होगा। यह संयोग 24 वर्ष बाद बन रहा है। इस कारण इन राशि के लोगों का प्रभुत्व बढ़ेगा। बाजारों में इन ग्रहों के अधिपत्य वाली वस्तुओं के मूल्य भी स्थिर रहेंगे। शुक्र के नक्षत्र में शुक्रवार के दिन होली होगी। प्रतिपदा व शुक्र का वर्तमान में उच्च राशि में होेना सभी वर्गों के लोगों के लिए फायदेमंद रहेगा। व्यापारियों के लिए समय उत्तम है। कन्या, कुंभ व मीन राशि वाले लोगों को लाभ होगा। 7 को भाईदूज, 10 को रंग पंचमी, 12 को भानु सप्तमी, 13 को शीतलाष्टमी, 16 को एकादशी, 18 को शिव चतुर्दशी प्रदोष, 21 को गुड़ी पड़वा,चैती चांद, 24 को राम राज्योत्सव व मीनावतार, 27 को चैत्र दुर्गाष्टमी। 28 को राम नवमी, 31 को कामदा एकादशी। 8 मार्च अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस, 15 को विश्व उपभोक्ता संरक्षण दिवस, 21 को विश्व सैन्य दिवस, 22 को विश्व जल दिवस, 24 को विश्व क्षय रोग दिवस।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...