डीएवीवी के हाथ से फिसले चार प्रोजेक्ट

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

फरवरी माह में नेक से मिली ए ग्रेड के बूते पर देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने अलग-अलग 10 से ज्यादा प्रोजेक्ट को हासिल करने की प्रक्रिया शुरू की थी। लेकिन चार प्रोजेक्ट हाथ से फिसल गए हैं। साथ ही यूनिवर्सिटी ने इन प्रोजेक्ट के आधार पर अगले एक साल में देश की टॉप 50 औैर पांच साल में टॉप 10 यूनिवर्सिटी में शामिल होने की दिशा में प्रयास शुरू किए थे उसे भी झटका लगा है। 10 में से दो प्रोजेक्ट तो उसे मिल चुके हैं, इनमें नेशनल यूथ फेस्टिवल और स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स शामिल हैं। जबकि चार प्रोजेक्ट हाथ से पूरी तरह फिसल गए हैं।
ये मिलेगा
आदर्श यूनिवर्सिटी: इस प्रोजेक्ट के तहत राज्य शासन 50 करोड़ रुपए तक की ग्रांट देने के साथ ही यूनिवर्सिटी को वह तमाम सुविधाएं औैर जमीन उपलब्ध करवाएगी, जिसकी उसे जरूरत है। इससे यूनिवर्सिटी में ई-लाइब्रेरी, आधुनिक क्लास रूम और छात्र स्कॉलरशिप पर काम होगा।
यूनिवर्सिटी विद् पोटेंशियल फॉर एक्सीलेंट: इस प्रोजेक्ट के तहत मिलने वाली राशि में से आधी राशि सिर्फ रिसर्च उपकरण जुटाने पर खर्च होगी। जबकि आधी राशि से नए भवन, होस्टल का आधुनिकीकरण होगा। छात्रों के लिए ई-क्लासरूम आदि तैयार होंगे।

इनोवेशन यूनिवर्सिटी स्टेटस: यह दर्जा मिलने के बाद यूनिवर्सिटी को अधिकतम 300 करोड़ रुपए की ग्रांट मिलेगी। यह राशि पूरी तरह अप्लाइड एरिया में रिसर्च पर खर्च होगी। इसका फायदा 300 से ज्यादा प्रोफेसरों के साथ ही 10 हजार से ज्यादा छात्रों को भी मिलेगा।

यूनेस्को चेयर: यूनेस्को चेयर से जुड़ने के साथ ही यूनिवर्सिटी में इसका नया विभाग खुल जाएगा। यह इंटरनेशनल लेवल का होगा। इससे दुनिया की कई टॉप यूनिवर्सिटी के साथ रिसर्च को लेक टाय अप होगा। सैकड़ों छात्र वहां जाकर रिसर्च कर सकेंगे। करोड़ों रुपए का बजट भी मिलेगा।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...