जमीन से ज्यादा दिल कांपे, बिहार में 16 लोगों के हार्ट फेल

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

महज 17 दिन बाद भूकंप और उसका खौफ फिर लौट आया। वहीं दोपहर साढ़े बारह बजे धरती कांप गई। पहले से सहमे लोग बुरी तरह डर गए और घरों से भागे। पर यह घबराहट जानलेवा बन गई। भूकंप से प्रदेश में 42 लोगों की मौत हुई है। स्वास्थ्य केंद्रों के मुताबिक 16 लोगों का हार्ट फेल हुआ है।
भूकंप से सबसे अधिक चार लोगों की मौत पूर्वी चंपारण में हुई है। हालांकि बिहार सरकार ने 15 लोगों के मरने और 70 लोगों के घायल होने की बात कही है। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 7.3 थी। केंद्र काठमांडू से 76 किलोमीटर दूर एवरेस्ट के पास कोडारी गांव में था। फिर भूकंप आने की दहशत में लोग रतजगा करते रहे। खुली जगह और पार्कों में जमे लोगों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुलाकात की। धैर्य व सावधान रहने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने कहा-डॉक्टर और पारा मेडिकल स्टाफ की छुट्टियां रद्द कर दी हैं। अलर्ट घोषित कर दिया है। नुकसान की भरपाई होगी। मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है।
15 राज्यों में भी डोली धरती
मंगलवार को आए भूकंप के झटके बिहार के अलावा राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश समेत 12 राज्यों में महसूस किए गए। उत्तर प्रदेश में तो 2 लोगों की मौत भी हुई है। कई के घायल होने की भी खबर है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...