समुद्र के अंदर विंड एनर्जी फार्म बनाकर बिजली पैदा करने की पॉलिसी तैयार

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

र्ष 2022 तक सभी घरों में 24 घंटे बिजली पहुंचाने के वादे को पूरा करने के लिए मोदी सरकार नए नए रास्‍ते तलाश रही है। अब सरकार ने समुद्र के अंदर विंड एनर्जी फार्म बनाकर बिजली पैदा करने की पॉलिसी तैयार की है। केंद्रीय नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एमएनआरई) जल्‍द ही इस पॉलिसी को मंत्रिमंडल के पास मंजूरी के लिए भेजेगा।

wind-energy
समुद्र के अंदर लगेंगे टरबाइन
विंड एनर्जी दो तरह की होती है। एक ऑनशोर और दूसरा ऑफशोर। अभी भारत में समुद्र के किनारे खुली जगह में टरबाइन लगा कर पवन ऊर्जा का उत्‍पादन किया जाता है। इसे ऑनशोर विंड एनर्जी कहा जाता है। इससे अब तक 20 हजार मेगावाट से अधिक बिजली का उत्‍पादन हो रहा है। सरकार का अनुमान है कि वर्ष 2031 तक ऑनशोर विंड एनर्जी से 1 लाख 91 हजार मेगावाट बिजली मिलने की संभावना है। लेकिन अब मंत्रालय ने समुद्र के अंदर टरबाइन लगाकर पवन ऊर्जा उत्‍पादन शुरू करने का निर्णय लिया है। इसे ऑफशोर विंड एनर्जी कहा जाता है। इसके लिए मंत्रालय ने ग्‍लोबल प्रेक्टिस के आधार पर विशेषज्ञों के सहयोग से एक पॉलिसी तैयार की है। मंत्रालय के एक अधिकारी बताते हैं कि हम ऑफशोर विंड एनर्जी को लेकर काफी उत्‍साहित हैं और चाहते हैं कि अगले साल बिडिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी जाए। ऐसे में पॉलिसी जल्‍द ही कैबिनेट के समक्ष रखी जाएगी और जरूरी मंजूरी मिलने के बाद हम पूरी तैयारी से इसे प्‍लान को जमीन पर ले आंएगे।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.