बनाई देश की पहली Super car, चीन को छोडा पीछे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

dc_1441660216
इंदौर. भारत की पहली सुपरकार बनानेवाले दिलीप छाबड़िया,सोमवार को इंदौर आए। उन्होंने बताया की चीन के पास भी अपनी सूपरकार नहीं है।स्कूल के दिनों में इन्फीरियोरिटी कॉम्प्लेक्स था मुझे… शायद आज भी है। किसी को उम्मीद हीं थी कि मैं ऐसा कुछ कर सकूंगा। लोगों से मिलने जुलने से कतराता था, कोई पार्टी में इन्वाइट करे तो टेंशन हो जाता था कि क्या करूं कि न जाना पड़े। कॉमर्स से ग्रेजुएशन किया था। नथिंग ग्रेट टिल हियर। शाय बिहेवियर और नो एडवेंचर एटिट्यूड के चलते जो कुछ मैंने सहा, उसी ने मुझे ऊर्जा दी। खुद का नाम बनाना तो चाह थी ही मेरी, लेकिन अंडरकरंट की तरह लोगों से मिला उपहास मुझे प्रेरित करता रहा खुद को साबित करने के लिए। यही जज़्बा मुझे यहां तक लाया है।वे मिसाल हैं हर उस शख्स के लिए जो ज़िंदगी में कुछ बनने का सपना देखता है।उनका मानना है की फेल्योर्स आर योर बेस्ट टीचर्स। फेल्योर्स आर लाइक ब्लेसिंग्स। इसके बिना सक्सेस तक शायद ही कोई पहुंचा हो। स्टेपिंग स्टोन हैं सक्सेस के। इन्हें पॉजिटिवली लीजिए और दोगुनी एनर्जी से आगे बढ़िए।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.