सालभर में इंदौर में शुरू हो जाएगा लिवर ट्रांसप्लांट

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LIVER TRANSPLANT
मंगलवार को इंदौर से गुड़गांव के मेदांता हॉस्पिटल तक ढाई घंटे में लिवर पहुंचाया गया। चोइथराम अस्पताल का दावा है कि अगले एक साल के अंदर इंदौर में ही लिवर ट्रांसप्लांट शुरू हो जाएगा। लंबे समय से अस्पताल में इसकी तैयारियां चल रही हैं। बुनियादी सुविधाएं अस्पताल द्वारा जुटा ली गई हैं। अब विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम तैयार की जा रही है। अस्पताल प्रशासन के मुताबिक, लिवर ट्रांसप्लांट के दो विशेष ऑपरेशन थिएटर तैयार हो चुके हैं, जहां कोई दूसरी सर्जरी नहीं की जा सकेगी। ओटी में ट्रांसप्लांट के लिए जरूरी उपकरण भी आ चुके हैं। अस्पताल के मेडिकल सर्विसेस डायरेक्टर डॉ.सुनील चांदीवाल व सीनियर गेस्ट्रोइंट्रोलॉजिस्ट डॉ. अजय जैन ने बताया कि लिवर ट्रांसप्लांट के लिए डॉ.दिलीप कोठारी आसन मेडिकल सेंटर कोरिया से लिवर ट्रांसप्लांट की ट्रेनिंग लेकर आ चुके हैं। रेडियोलॉजिस्ट व हिस्टोपेथोलॉजिस्ट की भी ट्रेनिंग हो चुकी है। अब पैरामेडिकल स्टाफ, पैथॉलॉजिस्ट व एनेस्थीसिया विभाग के डॉक्टर ट्रेनिंग के लिए जाएंगे।
डॉक्टर के मुताबिक, एक साल में देशभर में औसतन 1200 लिवर ट्रांसप्लांट होते हैं, लेकिन आवश्यकता की तुलना में यह एक चौथाई भी नहीं है। अभी भी जागरूकता की कमी के कारण लिवर ट्रांसप्लांट कम हो पाते हैं। इंदौर में तकरीबन 150 मरीजों को लिवर ट्रांसप्लांट की आवश्यकता बताई जा रही है, लेकिन लिवर मैच नहीं होने के कारण वे प्रतीक्षा सूची में हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.