स्मार्ट सिटी के लिए गृहणियों से लिए सुझाव

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

smart city
इंदौर। स्मार्ट सिटी में नए बगीचे और बच्चों के लिए प्ले जोन ज्यादा से ज्यादा संख्या में बनाए जाना चाहिए। अभी शहर में इनकी कमी है। शहर के लोग आवारा पशुओं की समस्या से परेशान हैं। निगम को बड़ा अभियान चलाकर जहां-तहां घूमने वाले पशुओं को बाहर करना चाहिए।
ये सुझाव गृहिणियों ने मंगलवार को नगर निगम को दिए। निगम ने कुछ महिलाओं को स्मार्ट सिटी के सुझाव लेने सिटी बस ऑफिस में बुलाया था। जनकार्य प्रभारी ने कहा कि बच्चों को स्मार्ट बनाने में गृहिणियों का सबसे ज्यादा योगदान होता है। गृहिणियां ही घर की समस्याओं का सामना करते हुए घर को व्यवस्थित बनाती हैं। इसलिए घर के साथ शहर को स्मार्ट बनाने में उनके सुझाव उपयोगी होंगे। डॉ. पुनीत द्विवेदी ने कहा कि गृहिणियां सोशल मीडिया के जरिये भी स्मार्ट सिटी के लिए सुझाव दे सकती हैं।
महिमा वर्मा ने कहा कि घर की बाहरी सजावट आने वाले मेहमान पर पहला प्रभाव डालती है। इसी तरह शहर के बारे में उसकी स्वच्छता स्मार्ट होने का मानदंड तय करती है। साक्षी आर्य ने कहा कि यह अच्छी पहल है, जिसमें पहली बार गृहिणियों से परामर्श लिया जा रहा है। सुझाव तो तब सार्थक होंगे, जब इन पर अमल हो और परिणाम सामने आएं। ऋतु पारवानी ने कहा शहर को स्मार्ट बनाना है तो सबसे पहले अच्छे बगीचे और बच्चों के लिए प्ले जोन बनाना चाहिए। निशा आर्य बोलीं शहर को आवारा पशुओं से मुक्त कराना जरूरी है। श्वेता रामचंदानी ने कहा कि स्मार्ट सिटी मिशन में पूरे देशवासियों को शुद्ध पीने का पानी उपलब्ध कराया जाना चाहिए।

    'No new videos.'