जेईई एडवांस का क्राइटेरिया बदला

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

EXAM-1447485059
भोपाल। इस साल जेईई एग्जाम की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स के लिए खुशखबरी है। इस बार ज्यादा स्टूडेंट्स जेईई एडवांस एग्जाम में बैठ पाएंगे। हाल ही में जेईई एडवांस की वेबसाइट पर जारी हुए नोटिफिकेशन में यह क्लीयर हुआ है कि अब डेढ़ लाख स्टूडेंट्स की जगह दो लाख स्टूडेंट्स एडवांस की परीक्षा देंगे। देश के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग संस्थानों में प्रवेश के लिए होने वाले जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) का शेड्यूल जारी कर दिया गया है, जिसमें इस बार बड़ा बदलाव सामने आया है।
विजन इंफिनिटी के प्रकाश सिंह का कहना है कि यह स्टूडेंट्स के भविष्य के लिए अच्छा कदम है। देश के पचास हजार स्टूडेंट्स इससे लाभान्वित हो पाएंगे। वहीं स्पेक्ट्रम के एक्सपर्ट राजेश शर्मा ने बताया कि दो लाख में एेसे बहुत से स्टूडेंट्स शामिल होते हैं, जो कि मेंस में कम माक्र्स लाए हों, लेकिन मोटिवेशन के बल पर एडवांस में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।
एमटेक और एमई कोर्स में एडमिशन लेने के लिए स्टूडेंट्स को ग्रेजुएट एप्टीट्यूट टैस्ट इन इंजीनियरिंग की परीक्षा देनी होती हैं। इस साल आईआईएसीसीबैंग्लोर इस एग्जाम को कंडक्ट कराएगा। एग्जाम 30 व 31 जनवरी और 6 व 7 फरवरी कोआयोजित किया जाएगा।
बीट्स पिलानी की ओर से इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स के लिए हर साल आयोजित होने वाली बीटसैट के लिए थर्ड वीक ऑफ दिसंबर से आवेदन कर सकते हैं। हर साल दो लाख से भी ज्यादा स्टूडेंट्स 2000 सीटों पर अपनी दावेदारी पेश करते हैं। अप्लाई करने की अंतिम तिथि फरवरी तथा एग्जाम सेकंड लास्ट वीक ऑफ मई में होगा।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.