पेरिस पहुंचा भोपाल की बड़ी झील का पानी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

rajendra
भोपाल के एेतिहासिक बड़े तालाब का पानी दुनिया भर को जलवायु परिवर्तन के खतरे और वैश्विक शांति का संदेश देगा। पेरिस के स्टेट द फ्रांस शहर में 29 नवंबर से 10 दिसंबर तक होने वाले अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम में शामिल होने के लिए भारत से पहुंचे स्टॉकहोम वॉटर प्राइज और मेग्सेसे पुरस्कार विजेता राजेंद्र सिंह भोपाल के इस तालाब का पानी अपने साथ शांति के प्रतीक के रूप में ले गए हैं। दुनिया भर में जल जन जोड़ो के नाम से अभियान शुरू कर चुके राजेंद्र सिंह यह पानी वितरित कर लोगों को जोड़ेंगे।
जल जन जोड़ो अभियान के राष्ट्रीय संयोजक संजय सिंह का मानना है कि भोपाल की वास्तविक पहचान यहां के तालाबों और झीलों से है, लेकिन आज देश और दुनिया भर में जल के सबसे प्रमुख स्रोत ये तालाब और झील संकट में हैं। जलवायु परिवर्तन इसी का एक दुष्परिणाम है। सिंह वर्तमान में जलवायु परिवर्तन को सबसे बड़े संकटों में से एक मानते हैं।
जलवायु परिवर्तन और वैश्विक शांति को लेकर पेरिस में होने वाले 11 दिवसीय कार्यक्रम का शुभारंभ 29 नवंबर को होगा। संयुक्त राष्ट्र के अध्यक्ष बानकी मून सहित दुनिया भर के राष्ट्रध्यक्ष इसमंे शामिल होंगे। जल पुरुष के रूप में स्थापित राजेंद्र सिंह कार्यक्रम के शुभारंभ अवसर पर लोगों को असंदेश देंगे।
राजेंद्र सिंह ने पेरिस की यात्रा भोपाल से शुरू की है। 24 सितंबर को भोपाल में आयोजित एक कार्यक्रम में आए राजेंद्र सिंह ने बताया कि जलवायु परिवर्तन दुनिया में आज सबसे बड़ी समस्या है। तालाबों के अस्तित्व पर मंडरा रहा संकट इसका प्रमुख कारण है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.