ब्रांड एम्बेसडर बन आज से संवारें इंदौर का कल

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Indore-BRT-pic-3

इंदौर.जागरूक नागरिकों का शहर। यहां की कला, संस्कृति, परपंरा, व्यापार, सहिष्णुता की अलग पहचान है। ऐसे में शहर को ब्रांड इंदौर के सांचे में ढालने और प्रचारित करने की जरूरत है। 2016 की नई सुबह यानि आज से ही इसकी शुरुआत करनी होगी और इस जिम्मेदारी निभाने के लिए आगे आना होगा।
शहर के सुपर्ब ग्रीन फील्ड सुपर कॉरिडोर के 9 किमी क्षेत्र में 8 लेन सड़क के दोनों ओर 300 मीटर तक आईडीए ने विकास की रूखरेखा तैयार की है। यहां इंफोसिस, टीसीएस, सिम्बायोसिस और नरसी मोनजी विवि कदम रख चुके हैं। इसे देखते हुए यहां मौजूद मेडिकल हब को आईटी फाइनेंशियल हब का रूप दिया जा रहा है। आवासीय योजना-176 भी शुरू हो चुकी है। नेशनल आर्किटेक्ट एसोसिएशन के मनीष कुमट का कहना है, सुपर कॉरिडोर को ब्रांड इंदौर के रूप में पेश करना बेहतर रहेगा। नए साल की शुरुआत में प्रचार-प्रसार की रणनीति बने तो मार्च-अप्रैल तक अपेक्षित माहौल बनेगा।
संगीत क्षेत्र में इंदौर घराना है। इसी तरह कला में विष्णु चिंचालकर, एमएफ हुसैन, नारायण श्रीधर बेंद्रे, श्रेणिक जैन जैसी शख्सियतों ने भी घराने को जन्म दिया है। देवलालीकर कला वीथिका ने इसकी नींव रखी है। पेंटर ईश्वरीय रावल का कहना है, इंदौर के पास कई प्रतिभाएं हैं, यदि देवलालीकर को नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (एनएसडी) और ललितकला संस्थान की तरह विकसित किया जाए तो दुनिया के कला मंच पर हमारे रंगों को अलग पहचान मिलेगी।
खानपान के लिए शहरवासियों में मशहूर सराफा चौपाटी को लेकर एक विशेषज्ञ ने कहा है कि यदि देश-विदेश में इसकी ब्रांडिंग की जाए तो यह कई टूरिस्ट को खींचने की क्षमता रखती है। मालवी, निमाड़ी, पंजाबी और दक्षिण भारतीय व्यंजनों की 100 साल पुरानी परंपरागत चौपाटी की रात 9 बजे बाद रंगत देखते ही बनती है। केंद्रीय खाद्य मंत्रालय के पास हाईजिनिक खानपान बाजार का प्रस्ताव भेज शुरुआत की गई है। इसी शुरुआत को राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर तक भी पहुंचाना होगा।
अंगदान से जीवनदान में इंदौर देश में दूसरे क्रम पर है। अंगदान सोसायटी ने अब तक 208 त्वचा, 4754 नेत्र, 58 देह और दो लिवर दान से कई जिंदगी सहेजीं। दानवीर कर्ण बने इंदौर ने औसत के लिहाज से एम्स को भी पीछे छोड़ दिया है। शहर का ब्लड कॉल सेंटर दुनिया में अनूठा है। समिति सहसचिव डॉ. संजय दीक्षित ने बताया, नए साल में नया कीर्तिमान रचेंगे। इंदौर में ही हार्ट ट्रांसप्लांट होगा। ब्रांड इंदौर की इस पहचान से दुनिया को रूबरू कराना होगा।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.