चाइनीज फिल्म में शहर का कलाकार

CHINESE MOVIE

इंदौर. आदित्य गोडबोले पेशे से डॉक्टर हैं, पर हाल ही में उन्होंने दो चाइनीज फिल्मों में काम किया है। इनमें से एक फिल्म प्रमोशनल है और दूसरी फीचर फिल्म। प्रमोशनल फिल्म को चाइना मूवी कॉर्पोरेशन ने बनाया है और फीचर फिल्म को चाइना मूवी कॉर्पोरेशन और इंडिया के इरोज इंटरनेशनल ने मिलकर बनाया है। 250 मिलियन डॉलर लागत की यह फिल्म 8 फरवरी को इंग्लिश, चाइनीज और केंटनीज (हांगकांग की भाषा) में रिलीज की जाएगी। आदित्य गोडबोले ने बताया कि वे 2008 में चाइना की जंगजो यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए गए थे। उनका एमबीबीएस कम्प्लीट हो गया है और अब वो पीजी के लिए अप्लाय कर रहे हैं। इस बीच उन्हें इन फिल्मों में काम करने का मौका मिला। आदित्य ने इंदौर में स्कूलिंग के बाद नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा की दो एक्टिंग वर्कशॉप की थीं। उनकी मां सविता गोडबोले जानी-मानी कथक गुरु हैं, इसलिए कला के संस्कार बचपन से ही मिले। चाइना में मेडिकल की पढ़ाई के दौरान चाइनीज लैंग्वेज का तीन साल का डिप्लोमा भी किया। उनकी चाइनीज पर कमांड ने ही ये फिल्में पाने में मदद की। ऑडिशन में उन्हीं विदेशियों को शामिल किया गया था, जो चाइनीज जानते थे।

फिल्म श्वांग जांग में उन्होंने एक बौद्ध भिक्षु का किरदार किया है। फिल्म की कहानी 7वीं सदी की है, जब थांग डाइनेस्टी का एक राजकुमार भारत के नालंदा में पढऩे आता है। यहां बौद्ध धर्म की शिक्षा पाने के बाद वह अपने देश में बौद्ध धर्म का प्रचार करता है। राजकुमार का रोल चाइना के मशहूर एक्टर हुआंग जियाओ मिंग ने किया है। इस फिल्म से पहले जो प्रमोशनल फिल्म की थी, उसमें वे एक विदेशी बने हैं। इस फिल्म में चीनी युवाओं को अंग्रेजी सीखने की नसीहत दी गई है। फिल्म में चाइना के ऐतिहासिक महापुरुष इस युग में आते हैं और युवाओं से कहते हैं कि जब विदेशी चाइनीज सीख सकते हैं तो वे अंग्रेजी क्यों नहीं सीख सकते। आदित्य ने बताया कि ये दो फिल्म करने के बाद उनके पास और ऑफर्स आ रहे हैं। वे मेडिकल की पढ़ाई के साथ साथ एक्टिंग भी जारी रखेंगे।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *