वर्ल्ड बैंक ने फिर जताया भारत पर भरोसा

world bank

विश्व की इकोनॉमी में भारत चमकता सितारा होगा। वर्ल्ड बैंक के अनुमान के मुताबिक भारत 2016-17 में 7.8 फीसदी की दर से विकास करेगा। ये विकास दर चीन की विकास दर से 1 फीसदी ज्यादा है।
वर्ल्ड बैंक ने ग्लोबल इकोनॉमिक प्रोस्पेक्ट रिपोर्ट में भारत की विकास दर का लक्ष्य हालांकि थोड़ा सा घटा दिया है। वर्ल्ड बैंक हर छे महीने में ये रिपोर्ट जारी करता है। वर्ल्ड बैंक ने 2015 के लिए भारत की विकास दर का लक्ष्य 0.2 फीसदी और 2016, 2017 में 0.1 फीसदी घटा दिया है।
वर्ल्ड बैंक के मुताबिक दूसरे विकासशील देशों के मुकाबले भारत की विकास दर मजबूत रहेगी। इसके पीछे भारत निवेशकों का अच्छा सेंटीमेंट और कच्चे तेल के कम दाम है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के करेंसी और शेयर बाजार पिछले साल पूरे विश्व में उतार-चढ़ाव के बावजूद मजबूती से खड़े रहे। रिजर्व बैंक ने भारत के डॉलर के रिजर्व को बनाए रखा और विदेशी निवेश में भी सकारात्मक बढ़त आई।भारत में वित्तीय स्थिति भी मजबूत हो रही है। सरकार का राजकोषिय घाटा 2009 में 7.6 फीसदी था वो अब जीडीपी का सिर्फ 4 फीसदी रह गया है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.