कैट 2015 में इंदौर के प्रतीक को मिले 100 परसेंटाइल

prateek

इंदौर. देश के 19 भारतीय प्रबंध संस्थान (आईआईएम) और टॉप बिजनेस स्कूल में प्रवेश के लिए आयोजित कैट-2015 के परिणाम शुक्रवार को घोषित किए गए। इंदौर के प्रतीक वाजपेयी और भोपाल के वीके गिरी उन ऑल इंडिया टॉपर्स में शामिल हैं, जिन्होंने 100 परसेंटाइल प्राप्त किया है। गत वर्ष 29 नवंबर को आयोजित इस परीक्षा में लगभग दो लाख अभ्यर्थियों ने भाग लिया था।
वेबसाइट आईआईएमसीएटी डॉट एसी डॉट इन की सोर्स कोड को हैक कर रिजल्ट लीक कर दिया था। जब इस बारे में आईआईएम-अहमदाबाद को पता चला तो होम पेज डिसेबल कर दिया गया और फिर छात्रों को एसएमएस के जरिए उनके नतीजे भेजे जा रहे हैं। पहले यह रिजल्ट 12 जनवरी को घोषित होना था, लेकिन परिणाम 8 जनवरी को ही घोषित कर दिया। रिजल्ट लीक को नकारते हुए आईआईएम ए के परीक्षा संयोजक प्रो. तथागत बंद्योपाध्याय के हवाले से बयान जारी किया गया कि सुबह 9 से 9.40 बजे के बीच कुछ छात्रों ने बेबसाइट के अपडेट किए जाने के दौरान अपने नतीजे देख लिए थे।
100 परसेंटाइल हासिल करने वाले शहर के प्रतीक वाजपेयी ने कहा, छोटे-छोटे लक्ष्य निर्धारित कर आज बड़ी सफलता हासिल की है। मेरा सपना आईआईएम अहमदाबाद से डिग्री लेना है। ‘पत्रिकाÓ से चर्चा में प्रतीक ने कहा, मैं अल्जीरिया में टाटा समूह प्रमुख सायरस मिस्त्री की कंपनी एसपीसीएल में नौकरी कर रहा था। इस कारण पढऩे के लिए 2-3 घंटे ही मिल पाते थे। ऐसे में मेरा ध्यान क्वॉलिटी स्टडी पर था। मैं रोज लक्ष्य निर्धारित करता था कि कितने टॉपिक पढऩा है। ऐसा कभी नहीं हुआ कि मैं अपना लक्ष्य पूरा किए बगैर ही सो गया।
7वी-8वीं तक तो पढऩे में होशियार था, इसके बाद मेरा ध्यान खेलों में ज्यादा रहा। मैंने स्कूल लेवल पर नेशनल टेबल टेनिस खेला। एनआईटी त्रिची में सिलेक्शन कॅरियर का टर्निंग पॉइंट रहा। यहीं मुझे पढऩे का नया तरीका मिला।
भारत के बाहर रहने के कारण मैंने ऑनलाइन ही पूरी तैयारी की। करीब 40-50 मॉक टेस्ट दिए होंगे। मैंने परीक्षा में सभी 100 प्रश्न अटैम्पट किए। बचपन में पापा के साथ पजल्स और मैथ्स की प्रॉबलम को सॉल्व करता था, जिससे ट्रिक्स बेस्ड प्रश्नों को हल करने में मदद मिली।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *