फ्लिपकार्ट-स्नैपडील इंदौर में खोलेंगी डिपो

app

इंदौर. मेट्रो सिटी से मालवा-निमाड़ में माल सप्लाय करने वाली ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट, जबॉन्ग, स्नैपडील, पेटीएम अब इंदौर से डिलीवरी देंगी। यह डिलीवरी पहले से जल्द होगी, जिसमें ट्रांसपोर्टेशन खर्च भी कम होगा। साथ ही वाणिज्यिक कर विभाग को भी उत्पाद के हिसाब से टैक्स मिलेगा। इन कंपनियों के आने से शहर में नए रोजगार सृजित होंगे। वाणिज्यिक कर विभाग से बैठक में ई-कॉमर्स कंपनी और फास्ट कोरियर कंपनियों के बीच लगभग सहमति बन गई है। ऑनलाइन बुकिंग पर अधिकांश माल अभी दिल्ली, बेंगलूरु या चेन्नई जैसे महानगरों से आता है।

प्रोडक्ट का रेट ऑफ टैक्स भी उसी शहर के राज्य में जमा होता है और उपभोक्ता को सामान मिल जाता है। वाणिज्यिककर विभाग सूत्रों के अनुसार ई-कॉमर्स कंपनियों पर ट्राई के नियम लागू होते हैं। उन पर विभाग का नियंत्रण नहीं है। ई-कॉमर्स कंपनी और फास्ट कोरियर कंपनियों के साथ विभाग ने बैठक कर दबाव बनाया कि माल की आपूर्ति इंदौर में डिपो बनाकर करें, ताकि स्थानीय माल की बिक्री हो और विभाग को राजस्व मिले।

वरिष्ठ कर सलाहकार आरएस गोयल ने बताया, ई-कॉमर्स से जुड़ी कुछ कंपनियां स्थानीय स्तर पर माल खरीद कर सप्लाई कर रही हैं। इससे कम समय में सप्लाई हो जाती है और उनका ट्रांसपोर्टेशन खर्च भी कम लगता है। स्थानीय स्तर के डीलर 20 से 50 ट्रांजेक्शन कर पंजीयन नंबर सरेंडर कर देते हैं। लिहाजा आवश्यक है कि विभाग ई-कॉमर्स कंपनियों से डीलरों की लिस्ट ले। स्क्रूटनी कर डीलरों से पूछे कि उन्होंने कितने माल का टैक्स विभाग को दिया है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *