आईआईएम के ५ वर्षीय कोर्स से हटा मैथ्स बैरियर

iim 7978_26_03_2016

इंदौर. 12वीं के बाद सीधे आईआईएम इंदौर में एंट्री के लिए आयोजित की जाने वाली आईपीएम प्रवेश परीक्षा में से गणित का बैरियर समाप्त कर दिया गया है। इस साल 16 मार्च को जारी सर्कुलर में कहा गया था कि आईपीएम के लिए आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा में उन्हीं छात्रों को शामिल होने दिया जाएगा जिन्होंने 12वीं में मैथ्स विषय ले रखा है। आईआईएम ने अपने इस फैसले को बदलते हुए अब 12वीं में मैथ्स कम्पलसरी होने के बैरियर को खत्म कर दिया है। अब इस एग्जाम में सभी स्ट्रीम के छात्र शामिल हो सकेंगे।
आईआईएम इंदौर के पीआरओ अख्तर परवेज ने बताया कि प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए 12वीं गणित विषय अनिवार्य होने के फैसले को वापस ले लिया गया है। इस फैसले को अभिभावकों की ओर से आए रिएक्शन को ध्यान में रखते हए बदला गया है। अभिभावकों का कहना था कि आईपीएम में प्रवेश पाने के लिए छात्र ने ड्रॉप ले रखा था और नए नियमों के परिणाम स्वरूप अब वह परीक्षा में भी शामिल नहीं हो सकेंगे। ऐसे में उसका एक साल खराब होगा। इस तरह के संदेशों को ध्यान में रखते हुए प्रवेश प्रक्रिया में बदलाव किया है। अब किसी भी विषय के छात्र जिनके 10वीं और 12वीं के माक्र्स 60 प्रतिशत (जनरल के लिए) हैं और 31 जुलाई 2016 को उनकी उम्र 20 साल से कम है वह इस परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। इसके साथ ही इस साल 12वीं के एग्जाम में शामिल होने वाले छात्र भी इस परीक्षा में हिस्सा ले सकते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.