सेमि फाइनल में इंडिया की हुई हार

06-1

मुंबई। वानखेड़े में खेले गए वर्ल्ड टी 20 के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में भारत को वेस्टइंडीज के हाथों सात विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही भारत इस वर्ल्ड टी 20 से बाहर हो गया। वहीं वेस्टइंडीज की टीम इस जीत के साथ टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंच गई है जहां उसका मुकाबला इंग्लैंड से होगा। हालांकि इस मैच में भारतीय टीम ने बल्लेबाजी तो अच्छी की थी लेकिन गेंदबाजों के उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाने के कारण टीम वर्ल्ड कप से बाहर हो गई।
भारतीय टीम ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 192 रनों का विशाल स्कोर बनाया। विराट कोहली ने आज भी शानदार बल्लेबाजी करते हुए 47 गेंदों में 89 रन की तूफानी पारी खेली लेकिन गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन ने जीती हुई बाजी को हार में तब्दील कर दिया। भारतीय गेंदबाजों ने बेहद ही खराब गेंदबाजी का प्रदर्शन किया। जसप्रीत बुमराह, रवीन्द्र जडेजा और हार्दिक पांड्या ने तो 10 से भी ज्यादा की औसत से रन लुटाए। बुमराह ने 4 ओवर में 42, जडेजा ने 4 ओवर में 48 और पांड्या ने 4 ओवर में 43 रन खर्च किए जबकि तीनों ने मिलकर मात्र एक विकेट निकाला|
टीम इंडिया की हार की वजह कप्तान धोनी का टॉस हारना रहा क्योंकि इस मैदान का यह रिकॉर्ड रहा है ज्यादातर मुकाबलों में टॉस जीतने वाली टीम ने ही मैच जीता है। अगर भारत इस मैच में टॉस जीता तो लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम के लिए जीत उतनी मुश्किल नहीं होती। धोनी ने हार के बाद कहा, सबसे पहले तो इस मैदान पर टॉस हारना अच्छा नहीं था क्योंकि यहां पर ओस की अहम भूमिका रहती है। इसके बाद जब हमने गेंदबाजी शुरू की तो स्पिनरों के लिए ज्यादा कुछ करने को नहीं था।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.