अर्जुन अंडर १६ में , मगर हज़ारो में एक रहे ” प्रणव धनावड़े “

pranav_650x488_61452001624

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन को हुबली में 24 मई से होने वाले अंतर क्षेत्रीय टूर्नामेंट के लिए पश्चिम क्षेत्र की अंडर-16 टीम में शामिल किया गया है। ओ.एम. भोसले टीम के कप्तान होंगे। टूर्नामेंट छह जून तक चलेगा।
लेकिन अर्जुन के चयन की बजाय यह खबर इसलिए ज्यादा सुर्खियों में है कि एक पारी में 1000 रन बनाने प्रणव धनावड़े का इस टीम में चयन नहीं हुआ। प्रणव धनावड़े जैसी प्रतिभा के न चुने जाने से सोशल मीडिया पर बहस लगातार बढ़ती जा रही है। लोग धनावड़े को आधुनिक युग का एकलव्य तक बता रहे हैं। ज्ञात हो कि प्रणव के पिता एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर हैं।
उल्लेखनीय है कि चयन समिति में समीर दीघे भी थे। जिनकी पहचान सचिन तेंदुलकर के करीबी और शुभचिंतक के रूप में रही है। यहां तक कि लचर विकेटकीपिंग और बेहद कमजोर बल्लेबाजी के बावजूद भी सचिन उनको अपनी कप्तानी वाली टीम इंडिया में जगह दिलाने में कामयाब रहे थे।
सचिन तेंदुलकर के अलावा टीम इंडिया के एमएस धोनी और हरभजन सिंह जैसे सितारों ने भी उन्हें बधाई दी थी। भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और पूर्व मुख्य चयनकर्ता दिलीप वेंगसरकर ने भी प्रणव को मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन की तरफ से सम्मानित किया था।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.