आईसीएसआई करेगा इंदौर के स्टार्टअप को मदद

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Green-Building-1459715796

इंदौर में अगर आपने स्टार्ट-अप शुरू किया है और आपको फंडिंग समेत कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। अब आपको द इंस्टिट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरी ऑफ इंडिया (आईसीएसआई) मदद करेगा। इंदौर चैप्टर इसके लिए कंपनी सेक्रेटरी की टीम बना रहा है, जो मुफ्त सेवा देगा। स्टार्टअप में लीगल एडवाइज, उसे आगे बढ़ाने के लिए जरूरी दस्तावेज बनाने से लेकर फंडिंग तक में युवाओं की मदद की जाएगी।
स्टार्टअप कंसल्टेंट मितेष संघवी के मुताबिक, इस समय स्टार्टअप की बूम है। खासकर युवा पब्लिक की जरूरतों का ध्यान में रखकर नए आइडिया पर सर्विसेस और प्रोडक्ट ला रहे हैं। इन्हें अनुभवी एक्सपर्ट की जरूरत है। खासकर दस्तावेजों को बेहतर करने और फंडिंग की व्यवस्था करने के लिए। आईसीएसआई की मदद से स्टार्टअप को आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।
शहर में स्टार्टअप को बढ़ावा देने वाले अधिकारियों का कहना है कि इस समय शहर में छोटे-बड़े करीब 100 स्टार्टअप शुरू हो चुके हैं। कम से कम एक स्टार्टअप ने 10 लाख का इंवेस्ट कर रखा है। इस हिसाब से 10 करोड़ से ज्यादा पैसा स्टार्टअप में लगा हुआ है। स्टार्टअप में आईआईएम, आईआईटी, एनआईटी सहित कई संस्थानों के पास-आउट छात्र जुड़े हुए हैं। मैनेजमेंट और टेक्निकल स्तर पर तो टीम बेहतर काम कर रही है, लेकिन लीगल दस्तावेजों को मजबूत बनने में कई तरह की गलतियां हो रही हैं। कई स्टार्टअप कंपनी रजिस्टर्ड कराते समय भी गलती कर रहे हैं। इसका खामियाजा बाद में देखने को मिलता है।
ज्यादातर स्टार्टअप युवा चला रहे हैं। इन्हें बढ़ाने के लिए अनुभवी लोगों की मदद भी जरूरी है। फंडिंग, लोन और कई तरह की प्रक्रिया में दस्तावेजों में कमी रह जाने के कारण स्टार्टअप को परेशानी आती है। हम अब हर स्टार्टअप को हर तरह की मदद देंगे। इसकी घोषणा जल्द की जाएगी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.